9 लक्षण जो बताते हैं कि दुनिया में कुछ बहुत खास करने के लिए आए हैं आप

0
268

ओल्ड सोल: कुछ लोगों की आत्मा बार-बार जन्म लेती है। ये धरती पर किसी खास मकसद से जन्म लेते हैं, कुछ सीखने के लिए और दुनिया को कुछ सिखाने के लिए। इन्हें ‘ओल्ड सोल या वृद्ध आत्मा’ कहते हैं जो बार-बार जन्म लेने के कारण अपनी समझ और विचारों में बेहद परिपक्व हो चुकी होती हैं।

कैसे पहचानें ‘ओल्ड सोल’ को: लेकिन कैसे जानें कि ऐसी आत्मा कैसी होती है? आगे हम आपको कुछ लक्षण बता रहे हैं जो अगर आपमें या आपके किसी जानने वाले में है तो समझें कि यह ‘ओल्ड सोल’ होने की निशानी है। ऐसे व्यक्ति इस दुनिया में किसी खास मकसद से आए हैं।

1. गहरी आंखें: ऐसे लोगों की आंखें बहुत खास होती हैं, आपको इनमें एक अजीब सी चमक नजर आती है। इनकी आंखों में देखते हुए आपको एक गहराई महसूस होती है , आपको इनमें खोने का एहसास होगा।

2. हीलिंग टच: आपको इनके साथ होने से एक सुरक्षा की अनुभूति होती है। अगर ये आपके सिर पर हाथ फेर दें तो ऐसा लगेगा कि जैसे आपके सारे दुख दूर हो गए।

3. सकारात्मकाता और आत्मिक शांति: इनकी उपस्थिति बेहद सकारात्मक होती है। आप कितनी भी उलझन या निराशा में हों, इनसे बात करते हुए आपको लगेगा जैसे मानसिक और शारीर्रिक रूप से आप बिल्कुल स्वस्थ और सकारात्मक हो गए हैं। यह इनकी पॉजिटिव एनर्जी के कारण होता है।

4. काम में पंक्चुअलिटी: ऐसे लोग अपने काम में एकदम पक्के होते हैं। यहां तक कि आप अगर इनके साथ काम करें तो सभी काम इतनी आसानी से और समय पर कर लेंगे कि आपको खुद पर ही आश्चर्य होगा। यह भी इनके पॉजिटिव वाइव्स के कारण ही होता है जो आपको अपने काम को सही समय पर पर और सही प्रकार से करने की प्रेरणा देता है।

5. प्रेरणादायक: ये दूसरों की मदद के लिए हमेशा तैयार होते हैं। वास्तव में जब भी आप इनकी मदद लेते हैं, ये आपके लिए पथप्रदर्शक साबित होते हैं। इनकी एक खास बात यह भी होती है कि भले ही आपको कुछ अच्छा करने के लिए प्रेरित कर दें लेकिन कभी भी कुछ करने के लिए दबाव नहीं डालते। दूसरों को सोच और अपने कामों में पूरी स्वतंत्रता देना इनके परिपक्व सोच की निशानी होती है।

6. दिखावे से दूर: ये भौतिकवादी नहीं होते। जो भी मिले उससे खुश रहते हैं, बह्त अधिक अधिक पाने की चाह आपको कभी नहीं दिखाएंगे। इनका मानना होता है कि पूरी सृष्टि में एकमात्र भगवान का वजूद ही सच है और इसलिए किसी और चीज के पीछे नहीं भागते।

7. प्रकृति और जानवरों से कनेक्शन: इन्हें प्रकृति से गहरा जुड़ाव होता है। इसलिए इन्हें शांति भी प्रकृति की गोद में ही मिलती है। प्रकृति प्रेमी होने के कारण ये मनुष्य ही नहीं पशु-पक्षियों से भी उतना ही जुड़ाव रखते हैं, इसलिए जानवर और पक्षी भी इनसे लगाव रखते हैं और बदले में वे पशु-पक्षी भी किसी ना किसी प्रकार अपना स्नेह दिखा ही देते हैं।

8. प्रेम भाव: इनके मुंह से आपको अपशब्द या कड़वे शब्द शायद ही कभी सुनने को मिलें। ये अपने मन में हर किसी के लिए प्रेम-भाव ही रखते हैं, ईर्ष्या जलन जैसी भावनाएं इन्हें नहीं छू पातीं, यही कारण है कि चाहे कितनी भी विषम परिस्थिति में हो ये मुस्कुराते हुए ही आपका स्वागत करेंगे और आप चाहकर भी इनसे बुरा व्यवहार नहीं कर पाएंगे।

9. आज में विश्वास रखने वाले: परिपक्व आत्मा होने के कारण इन्हें कर्म का महत्व पता होता है, इसलिए कभी भी आज और कल के फेर में नहीं जीते। ये हमेशा आपको आज की बातें करते दिखेंगे और आपको भी आज में ही जीने की सलाह देंगे।