हाथ में पैसे नही रूक रहें हैं तो घर में रखें शहद, होंगे ये 5 लाभ

0
22

आपके हाथ में पैसे आते तो ही लेकिन रूकते नही हैं। वेतन के पैसे टिकते नही हैं चारो तरफ से खर्च बने रहते हैं। ऐसे में आप कुछ वास्तु के उपायों को अपनाकर इनसे निजात पा सकते हैं अथवा पैसे हाथ में रूकने लगेंगे। शहद सेहत के लिए लाभकारी है लेकिन इसका वास्तु की दृष्टि से भी महत्व है। वास्तु के लिहाज से भी शहद बेहद उपयोगी है। यदि आप घर में अगर शहद रखते हैं तो उसके कई लाभ होते हैं।

कम हो जाता है घर का खर्च ,अगर आपके हाथ में पैसे नही टिकते हैं और बढ़ते खर्चों से अगर आप परेशान हैं तो वास्तु के अनुसार घर में यदि शहद रखा जाए तो फिजूल खर्चों में कमी आ जाती है। वास्तुनुसार शहद की सकारात्मक ऊर्जा घर की नकारात्मक ऊर्जा को खत्म कर देती है। इसका फायदा न केवल आर्थिक रूप से होता है, बल्कि सेहत पर भी अच्छा प्रभाव होता है।

शनि का प्रभाव करता है कम ,अगर किसी जातक की जन्मकुंडली में शनि नीच राशिगत, वक्री, अशुभ स्थान का स्वामी होकर अशुभ ग्रहों के प्रभाव में हो तो शनि अपनी महादशा, अंतर्दशा, साढ़ेसाती या ढैया अवधि, जन्म, शनि पर गोचर या शनि का गोचर होने पर अशुभ फल देता है। ऐसे में ज्योतिषशास्त्र विनोद मिश्र के अनुसार घर में शहद रखने से शनिदेव खुश होते हैं। उस घर-परिवार पर उनकी अनुकंपा सदैव बनी रहती है।

संतान से जुड़ी समस्याएं होंगी दूर ,शनिवार को काल भैरव और शनिदेव की आराधना करें। प्रसाद स्वरूप साबुत उड़द में दही और शहद मिलाकर अर्पित करें। इस उपाय से पारिवारिक शांति व संतान संबंधी समस्याओं से भी छुटकारा मिल जाएगा। माता-पिता यदि संतान की मनमानी या व्यवहार से दुखी हों तो इस अभिषेक से की गई आराधना से उनके संकटों का निवारण होगा।

मन शांत रहता है , यदि आप बेचैन रहते है और घर में रोजाना छोटी-छोटी बात को लेकर कलह हो रहा है तो रोजाना शहद का प्रयोग घर के सभी सदस्य करते हों तो धीरे-धीरे देखा गया है कि आंतरिक कलह में कमी आने लगती है। मन शांत होने लगता है और आपस में प्रेम का भाव उत्पन्न होता है।
सेहत पर शहद का सकारात्मक असर होता है। यह मोटापा कम करने से लेकर त्वचा निखारने तक में कारगर है।