हमेशा सही रव्तचाप नहीं बताते घरेलू उपकरण

0
1703

टोरंटो । यदि आप भी घर पर ही अपना ब्लडप्रेशर जांचते हैं तो सावधान हो जाइये। एक अध्ययन में खुलासा हुआ है कि घरेलू मॉनीटर पर आंके जाने वाले ब्लडप्रेशर के 70 प्रतिशत मामले गलत होते हैं। लोग इन पर भरोसा करत हैं, जिसका खामियाजा उन्हें बाद में बिगड़ी हुई सेहत के रूप में चुकाना पड़ता है।

शोधकर्ताओं के अनुसार शोध रिपोर्ट लाखों मरीजों पर किए गए अध्ययन के आधार पर तैयार की गई है, जो निजी उपकरणों की सहायता से अपने घर पर ही रव्तचाप की जांच करते रहे हैं। कनाडा की यूनिवर्सिटी ऑफ एलबर्टा की जेनिफर रिंग्रोस का कहना है कि दुनिया में विकलांगता से होने वाली मौतों में से हाई ब्लडप्रेशर से होने वाली मौतों का आंकड़ा सबसे ज्यादा है।

लगातार निगरानी रखने से हाइपरटेंशन बीमारियों का असर घटाया जा सकता है। बस करना इतना है कि घरेलू ब्लड प्रेशर से मिलने वाली रीडिंग सटीक हो। रिंग्रोस व उनकी टीम ने दर्जनों होम मॉनीटर को जांचा और पाया कि वे सटीक नहीं थे। सत्तर प्रतिशत मामलों में मीटर का पारा गलत था। मीटर भी सही नहीं था। उन्होंने कहा कि घरेलू मीटर पर ब्लड प्रेशर देखने से पहले उसकी क्लीनिक के आंकड़े से तुलना करके जांचा जाना चाहिए। इसमें सटीक पाए जाने की स्थिति में ही उसे सही मान कर उसका उपयोग करना चाहिए।