सुबह सैर करने के 8 चमत्कारी लाभ

0
305

सुबह सुबह मोर्निग वाक् करना बहुत अच्छा माना गया है। सुबह सुबह दौड़ने से हमारे शरीर में रक्त का संचार सुचारू रूप से होने लगता है जिससे हमारे शरीर के सभी अंग पुरे दिन ठीक प्रकार से काम करते हैं व् हमारा मन पुरे दिन चुस्त व् दुरुस्त रहता है। सुबह कम से कम 30 मिनट तक दौड़ना एक तरह से जिम जाने के बराबर ही शरीर को फिट रखने के लिए समान माना गया है। फिटनेस एक्सपर्ट के अनुसार भी सुबह सुबह दौड़ने के लिए सुझाव दिए जाते हैं इससे हमारे शरीर के सभी अंग कार्यशील हो जाते है साथ ही हमारा स्वाथ्य भी अच्छा रहता है। इतना ही नहीं सुबह दौड़ने से और भी बहुत फायेदे होते है जिनके बारे में हम आपको बता रहे हैं।

यहाँ हम आपको सुबह दौड़ने के कुछ स्वास्थ्य लाभों के बारे में बता रहें हैं-

वजन घटाने में मदद करता है: आज के समय में सभी लोग फिट दिखना चाहते हैं लेकिन काम की वजह से वह जिम या व्यायाम ठीक ढंग से नहीं कर पाते हैं, इसलिए सुबह सुबह सिर्फ 3-4 किलोमीटर दौड़ना भी एक व्यायाम शुरू करने के बराबर होता है। आप रोज सिर्फ 3-4 किलोमीटर प्रतिदिन दौड़ कर अपना वजन 1 सप्ताह में 2 किलो तक घटा सकते हैं। दौड़ने से हमारे शरीर की सभी मांसपेशियों से अतिरिक्त उर्जा शरीर दौड़ने में उपयोग करता है जिससे वजन कम होता जाता है।

दिल के स्वास्थ्य में सुधार: सुबह नियमित रूप से दौड़ने की वजह से हमारे हार्ट खून की पम्पिंग अच्छी तरह से होती है। एलडीएल (हानिकारक वसा) हमारे खून के अनुपात में एचडीएल (अच्छा वसा) में सुधार आता है और यह रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) को नियंत्रित करने में मदद करता है। सुबह सुबह दौड़ने से घातक दिल का दौरा पड़ने की संभावना काफी कम होती है व् हमारा ह्रदय स्वस्थ रहता है।

रक्त शर्करा को नियंत्रित करता है: मधुमेह(Sugar ) रोगियों को डॉक्टर भी हमेशा सुबह सुबह घुमने की सलाह देते हैं। सुबह सुबह मधुमेह रोगी दौड़े नहीं तेज चलें कम से कम 30 मिनट के लिए इससे शुगर कंट्रोल में रहता है। और बहुत सारे लोगो को सुगर होने का खतरा भी आधा हो जाता है।

जीवन प्रत्याशा बढ़ जाती है: सुबह नियमित रूप से तेज चलना या दौड़ना मानसिक तनाव, कैंसर, ह्रदय रोग, रक्त चाप आदि जैसे रोगों पर रोक लगता है। सुबह सुबह दौड़ना जीवन की गुणवत्ता शक्ति को बढाता है, जिससे बीमारी से लड़ने की शरीर की शक्ति बढती है और ऐसे लोगों को बीमार होने का खतरा कम रहता है।

ब्रेन कामकाज में सुधार: सुबह हमारे शरीर की तुलना में हमारे मष्तिष्क को ऑक्सीजन की ज्यादा आवश्यकता होती है। सुबह सुबह बाहर दौड़ना या सैर पर जाने से हमारे मष्तिष्क को भरपूर ऑक्सीजन प्राप्त होती है, जिससे हमारे रक्त परिसंचरण में सुधार होता है। इससे हमारे याद रखने की शक्ति में भी बढ़ोतरी होती है साथ की हम मस्तिष्क कार्यों में अच्छा प्रदर्शन कर पाते हैं।

तनाव दूर करता है: सुबह की ताजा हवा मन और शरीर के लिए बहुत चमत्कारी होती है। अन्य गतिविधियों की तरह, नियमित रूप से सुबह सुबह बाहर घुमने जाना किसी दूसरी गतिविधि से कम नहीं होता है। इससे आत्मसम्मान में सुधार होता है। यह अवसाद व् तनाव को कम करने के लिए मुख्य हथियार है। इसके अलावा सुबह प्रदूषण का स्तर भी कम होता है जिससे हमारे शरीर को स्वच्छ हवा मिलती है जिससे हमारा मन व तन खुश रहता है।

शरीर को मजबूत: सुबह सुबह चलना पैर और पीठ की मांसपेशियों को मजबूत बनाने में सहायक होता है। और सुबह सुबह चलने से शरीर का एक प्रकार का थुलथुलापन कम होता है व् शरीर में कसाव आता है। यह हड्डियों के विकास व् मजबूती लिए फायदेमंद होता है और गठिया व् हड्डियों की कमजोरी से बचाता है।

नींद में सुधार: सुबह सुबह सैर पर जाने के लिए हमें जल्दी जागना पड़ता है जो की धीरे धीरे हमारी एक आदत हो जाती है, पुराणों के अनुसार भी सुबह सूरज उगने से पहले उठना बहुत अच्छा मन गया है इससे हमारा शरीर पुरे दिन चुस्त दुरुस्त रहता है। दौड़ने की वजह से हमारी माश्पेशियाँ थक जाती हैं जैसे कसरत करने के बाद होता है इसलिए रात को अच्छी नींद आती है व् खर्राटों में भी कमी होती है।