सप्ताह में 3 बार सरसों तेल में हल्दी मिला कर खाएं, होंगे ये 6 आश्चर्यचकित करने वाले लाभ

0
77

अपनी निजी जिंदगी में हम सभी किसी ना किसी रोग से पीडित हैं। चाहे वह कब्ज, भूख ना लगना, अस्थमा या हृदय से संबन्धित बीमारी ही क्यूं ना हो।
इन बीमारियों को ठीक करने के लिये हम अच्छे खासे पैसे भी खर्च करते हैं मगर उससे भी कोई फरक नहीं पड़ता। हम आपको बताना चाहेंगे कि हमारे किचन में ही कुछ ऐसी सामग्रियां रखी हैं, जो दवाइयों को भी फेल कर सकती हैं।
कहने का मतलब है कि सरसों का तेल और हल्दी तो हर किचन में मौजूद होता है। बस 2 टीस्पून सरसों के तेल में 1 टीस्पून हल्दी मिला कर 2 मिनट तक गरम कीजिये और फिर इसे एक चम्मच में डाल कर मुंह में डाल लीजिये।
ऐसा हफ्ते में तीन बार खाना खाने के बाद करें। यह मिश्रण आपको किन-किन बीमारियों से राहत दिलाता है, आइये जानते हैं इसके बारे में –

भूख को उत्तेजित करे : इसका सेवन करने से पेट में खाना पचाने वाले जूस का प्रोडक्शन तेज हो जाता है, जिससे आपको अच्छी भूख लगने लगती है।

कब्ज से राहत दिलाए : अगर कब्ज की शिकायत है तो हल्दीऔर सरसों के तेल का नियमित सेवन करना चाहिये।

दिल के लिये लाभकारी : ये दो सामग्रियां शरीर से खराब कोलेस्ट्रॉल को निकालती हैं, जिससे हृदय तक खून का फ्लो अच्छा हो जाता है।

कैंसर से बचाए : इस घरेलू उपचार से शरीर में बनने वाली कैंसर की सेल्स का विकास होता है क्योंकि इनमें phytonutrients और एंटीऑक्सीडेंट काफी भारी मात्रा में पाया जाता है।

अस्थमा से राहत दिलाए : इसके सेवन से फेफड़ों की जकड़न दूर होती है और अस्थमा से राहत मिलती है।

शारीरिक दर्द से छुटकारा दिलाए : ये दोंनो मिश्रण जब एक साथ मिलते हैं तो इनमें सूजन को खत्म करने वाला गुण पैदा होता है। यह शरीर के किसी भी हिस्से से दर्द और सूजन को कम कर सकते हैं।

महत्त्वपूर्ण सुचना: यहाँ दी गई जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हरसम्भव प्रयास किया गया है। यहाँ उपलब्ध सभी लेख पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए है और इसकीनैतिक जि़म्मेदारी www.braahmi.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपनेचिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। आपका चिकित्सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्प नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here