विटामिन ए की कमी से हो सकता है तपेदिक

0
10

नई दिल्ली (ईएमएस)। हाल ही में किए गए शोध में सामने आया है कि विटामिन ए की कमी के चलते तपेदिक हो सकता है। हाल ही में किए गए एक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि विटामिन ए की कमी वाले लोगों को तपेदिक होने का खतरा सामान्य लोगों की तुलना में दस गुना ज्यादा होता है।

शोधकर्ताओं ने पाया कि विटामिन ए की सही खुराक दे कर तपेदिक या टीबी के विस्तार को रोका जा सकता है। दुनियाभर में बीमारियों से होने वाली मौतों में से तपेदिक सबसे प्रमुख कारण है। अमेरिका के बोस्टन में हार्वर्ड मेडिकल स्कूल की प्रोफेसर मेगन मरे का कहना है कि यह विटामिन तयशुदा मात्रा में शरीर में रहता है, तो तपेदिक संभावना टल सकती है। क्लिनिकल इंफेक्शियस डिजीजेज में प्रकाशित शोधपत्र के अनुसार पेरू के लीमा में 6000 से अधिक लोगों के खून के नमूने ले कर विश्लेषित करने र यह नतीजे सामने आए। तपेदिक भारत जैसे विकासशील देशों में महामारी का रूप ले चुकी है। यह आंकड़ा हैरानी में डालने वाला है कि सन 2015 में पूरी दुनिया में तपेदिक से लगभग 18 लाख लोगों की मौत हुई।

तपेदिक की चपेट में ज्यादातर गरीब तबके के लोग आते हैं, जिनकी आबादी कुल जनसंख्या का लगभग 30 फीसदी बैठती है। इस आबादी में विटामिन ए की कमी देखी गई। शाधकर्ताओं ने उम्मीद जताई कि लोगों में विटामिन ए का स्तर सुधार कर तपेदिक के प्रसार को रोका जा सकता है।