याददाश्त कमजोर करते हैं ये आहार, ना करें ज्यादा सेवन

0
49

कमजोर याददाश्त यानि चीजों को भूलने लगना। जैसे- घर में ताला लगाना भूल जाना, गैस पर दूध रखकर भूल जाना, पैसों के लेन-देन में आदि जैसी बहुत-सी चीज और भी हैं। लोग स्वस्थ रहने के लिए और दिमाग तेज करने के लिए बहुत-सी चीजों का सेवन करते हैं। उनमें से कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिसका सेवन करने से यादाशत में बढ़ौतरी होती है और वहीं कुछ चीजें ऐसी भी है जो दिमाग को नुकसान भी पहुंचाती हैं, दूसरे शब्दों में याददाश्त कमजोर हो जाती है।

आज हम आपको उन चीजों के बारे में बताएंगे, जिसका सेवन करने से यादाशत कमजोर होती है।

1. स्‍वस्‍थ हो दिमाग  हम जो भी खाते हैं उसका सीधा असर दिमाग पर भी पड़ता है, कुछ आहार हमारे दिमाग को सक्रिय करते हैं लेकिन कुछ आहार ऐसे भी हैं जिनके सेवन से दिमाग की कार्यक्षमता कम हो जाती है। ये आहार न केवल याद्दाश्‍त कमजोर करते हैं बल्कि दिमाग से जुड़ी बीमारियों के लिए भी जिम्‍मेदार हो सकते हैं। इसलिए दिमाग को स्‍वस्‍थ रखने के लिए इन आहारों का सेवन करने से बचना चाहिए।

2. सॉफ्ट ड्रिंक सॉफ्ट ड्रिंक का सेवन करना आपके दिमाग के लिए सही नहीं है। इसमें पाया जाने वाला फ्रक्‍टोज दिमाग की कार्यक्षमता को न केवल कम करता है बल्कि इसके अधिक सेवन से याद्दाश्‍त भी जा सकती है। सॉफ्ट ड्रिंक में पाया जाने वाल उच्‍च फ्रक्‍टोज के कारण याद करने की क्षमता धीरे-धीरे समाप्‍त हो जाती है। इसलिए दिमाग को दुरुस्‍त रखने के लिए सॉफ्ट ड्रिंक न पियें।

3. शुगर से बचें शुगर और शुगरयुक्‍त आहार दिमाग के लिए ठीक नहीं। कैंडी, केक, मिठाई आदि में फ्रक्‍टोज पाया जाता है। इसके सेवन से न केवल शरीर का शेप बिगड़ता है साथ ही दिमाग भी कमजोर होता है। ज्‍यादा शुगर के सेवन से तार्किक क्षमता और नई बातों को सीखने की क्षमता पर असर होता है। इसलिए शुगर से बचें।

4. नमक है नुकसानदेह नमक का अधिक सेवन करना दिल के साथ दिमाग के लिए भी नुकसानदायह है। नमक में सोडियम पाया जाता है, जो बौद्धिक क्षमता पर असर डालता है। ज्‍यादा नमक खाने से ब्‍लड प्रेशर बढ़ता है, इसकी वजह से बेचैनी होती है। इसके कारण सोचने और समझने की क्षमता प्रभावित होती है। इसलिए ज्‍यादा नमक का सेवन करने से बचें।

5. तला हुआ अधिक तला हुआ आहार वजन तो बढ़ाता है साथ ही आपके दिमाग को भी कमजोर बनाता है। अगर आप अधिक तला हुआ खाद्य पदार्थ जैसे – समोसे, कचौड़ी आदि खाते हैं तो यह आपके दिमाग के लिहाज से ठीक नहीं। ये आहार तंत्रिका कोशिकाओं को धीरे-धीरे नष्‍ट करते हैं, और दिमाग को कमजोर बनाते हैं।

6. ट्रांस फैट ट्रांस फैट कई रोगों के लिए जिम्‍मेदार होता है। इसके सेवन से मोटापा, दिल की बीमारियां, कोलेस्‍ट्रॉल बढ़ने जैसी समस्‍यायें होने लगती हैं। इसके अलावा यह दिमाग में सिकुड़न पैदा कर देता है। ट्रांस फैट खाने वालों को अल्‍जाइमर्स हो सकता है, जिसके कारण उनकी याददाश्‍त और तार्किक क्षमता में भारी गिरावट आती है।

7. जंकफूड से करें तौबा फास्‍टफूड और जंकफूड भी बीमारियों के साथ दिमाग के लिए भी बुरे हैं। फास्‍टफूड और जंकफूड से दिमाग में मौजूद रसायनों की संरचना बदलती है। इसके अलावा बेचैनी और अवसाद से जुड़े लक्षण शुरू हो जाते हैं। यह आहार डोपामाइन (यह एक प्रकार का हार्मोन है जो एकाग्रता बढ़ाने में मदद करता है) के उत्‍पादन में कमी लाता है।

8. प्रोसेस्‍ड प्रोटीन को ना प्रोटीन हमारे शरीर की मांसपेशियों के विकास के लिए बहुत जरूरी हैं। लेकिन प्रोसेस्‍ड प्रोटीन जैस – हॉटडॉग, सॉसेज आदि खाने से परहेज करें। क्‍योंकि इसमें मौजूद प्रोटीन तंत्रिका तंत्र (नर्वस सिस्‍टम) के लिए नुकसानदेह है। सामान्‍य प्रोटीन की जरूरत के लिए लिए मांस, सालमन, दाल और बादाम का सेवन करना अधिक फायदेमंद है।

9. कैफीन नियमित रूप से तीन कफ कॉफी का सेवन फायदेमंद माना जाता है, लेकिन इससे अधिक कॉफी पीने से दिमाग प्रभावित होता है। कैफीन को शरीर बहुत जल्‍दी अवशोषित कर दिमाग को अतिसक्रिय कर देता है, लेकिन अगर अधिक कैफीन का सेवन किया जाये तो यह दिमाग को नुकसान पहुंचा सकता है। इससे तार्किक क्षमता कम होती है और याद्दाश्‍त भी कमजोर हो जाती है।

10. कृत्रिम स्‍वीटनर कृत्रिम स्‍वीटनर में टॉक्सिक पदार्थ मौजूद होते हैं जो दिमाग के लिए ठीक नहीं हैं। इनके कारण मस्तिष्‍क संबंधी जटिलतायें होने लगती हैं। इसलिए इनकी जगह पर पौष्टिक स्‍वीटनर का प्रयोग करें।

11. टोफू टोफू का अधिक सेवन दिमाग की सेहत के लिए ठीक नहीं। 2008 में डिमेंशियाज एंड गेरियाट्रिक कॉग्निटिव डिसऑर्डर नामक पत्रिका में छपे एक शोध के अनुसार टोफू के सेवन से दिमाग कमजोर हो सकता है, खासकर 68 की उम्र के बाद के लोगों में इसके कारण याद्दाश्‍त समाप्‍त हो सकती है। यह डिमेंशिया के खतरे को बढ़ाता है।

12. चीज़ ये चीज़ जिसे पिज्जा और फास्ट फूड में इस्तेमाल किया जाता है। इसमें भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है और यह खाने में भी बहुत टेस्टी होता है। प्रोसेस्ड चीज़ हमारे शरीर में जो प्रटीन बनाता है, वह यादाशत को नुकसान पहुंचा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here