मोटी से मोटी तोंद हो या फिर निकले हुए पेट की चर्बी, इसका सेवन सिर्फ़ 1 महीने तक करने से जो परिणाम मिलेगा उसे देख चौंक जाएँगे आप

0
396

हम आपको मोटापे व निकले हुए पेट को कम करने के लिए छोटी पीपली के चमत्कारी उपाय के बारे में बताएँगे जो आपको 1 महीने में सकारात्मक परिणाम देगी।  भारत ही नहीं पूरे विश्व के लोग मोटापे व निकली हुई तोंद परेशान हैं। मोटापे के कारण हमारा पेट या यूं कहें कि तोंद बाहर निकल आती है। जिसके कारण हमारे पर्सनालिटी पर उल्टा प्रभाव पड़ता है। तोंद या पेट निकलने के कारण हमारा शरीर बेडौल हो जाता है।  हम अपने मोटापे व निकले हुए पेट को कम करने के लिए घंटों पसीना बहाते हैं लेकिन कोई फायदा नहीं होता। मोटापा व निकले हुए पेट घटाने के लिए खानपान में सुधार जरुरी है। हम अपने खाने में तली भूनी व अत्यधिक वसा युक्त सामग्री का सेवन ना करें।
आइए हम आपको निकले हुए पेट व वजन कम करने के लिए कुछ टिप्स बताते हैं जिससे आपको बहुत ही फायदा होगा। ज्यादा कार्बोहाइड्रेड वाली वस्तुओं से परहेज करें जैसे शक्कर और चावल व आलू का सेवन कम से कम करें क्योंकि यह चर्बी को बढ़ाते हैं।  अपने खान-पान में मोटे अनाजों का जैसे ज्वार बाजरा तथा चना व मटर आदि को भी शामिल करें। सुविधानुसार पत्तागोभी का जूस जरूर पियें क्योंकि इससे शरीर का मेटाबॉलिज्म सही रहता है। इसके प्रयोग से मोटापा कम होने के साथ-साथ पेट निकलने की समस्या से भी हम को फायदा होता है। आयुर्वेद में निकले हुए पेट व मोटापे को कम करने के लिए कई तरीके बताए गए हैं।

मोटापे को कम करने के लिए तरीके :

  • छोटी पीपल को लेकर उसको खूब महीन सा पीस लें और फिर उसे कपड़े से छान लें। दो चम्मच चूर्ण को चूर्ण रोजाना सुबह, दोपहर व शाम को छाछ के साथ सेवन करें। 1 महीने में आप देखेंगे कि आप की निकली हुई तोंद व मोटापा चमत्कारिक तरीके से कम हो जाएगा।
  • आंवले व हल्दी को बराबर मात्रा में पीसकर उसका चूर्ण बना लें और दो चम्मच चूर्ण के साथ सुबह व शाम सेवन करें इसके प्रयोग मोटापा व निकली हुई तोंद कम हो जाएगी।
  • एक चम्मच पुदीने के रस में दो चम्मच शहद मिलाकर सुबह-शाम लेने से निकला हुआ पेट अंदर हो जाता है तथा हमको मोटापे से राहत मिलती है।
  • भोजन में टमाटर और प्याज का सलाद काली मिर्च और नमक डालकर जरूर खाएं जिससे शरीर को विटामिन सी, विटामिन ए, और आयरन के साथ-साथ लाइकोपीन मिलता है इसकी वजह से भी वजन व मोटापा नियंत्रित हो जाता है।

महत्त्वपूर्ण सुचना: यहाँ दी गई जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हरसम्भव प्रयास किया गया है। यहाँ उपलब्ध सभी लेख पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए है और इसकीनैतिक जि़म्मेदारी www.braahmi.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपनेचिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। आपका चिकित्सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्प नहीं है।