मानसून की शुरूआत में डेंगू का खतरा, बरते सावधानी

0
28

नई दिल्ली । जून में मानसूनी वारिस की शुरूआत के बाद डेंगू के मच्छरों के पनपने का खतरा बढ़ गया है। गर्मी और उमस के बीच मच्छरों का आतंक जारी है। जून में डेंगू के 5, मलेरिया के 9 और चिकनगुनिया के 2 मरीजों की पुष्टि हुई है। इस साल अब तक डेंगू के 45, चिकनगुनिया के 98 और मलेरिया के 39 मामले सामने आ चुके हैं। एमसीडी की ओर से जारी किए गये आंकड़ों के अनुसार जून में डेंगू के 5, मई में 8, अप्रैल में 11, मार्च में 11, फरवरी में 4 और जनवरी में 6 मामले सामने आए थे। चिकित्सकों के मुताबिक ये आंकड़े चौंकाने वाले हैं, क्योंकि गर्मी में इस प्रकार डेंगू की पुष्टि चिंताजनक है। पिछले साल कुल 4431 डेंगू के मामलों की पुष्टि हुई थी, लेकिन 10 जून तक केवल 4 मरीज भर्ती किये गये थे। जो इस बार 45 तक पहुंच गई है। इसी तरह इस साल चिकनगुनिया अभी से डराने लगा है। पिछले साल दिल्ली में इस वायरस का अब तक का सबसे बड़ा हमला था, जो इस साल भी तेजी से सामने आ रहा है। पिछले साल इन दिनों तक कोई भी मामला नहीं आया था, लेकिन साल के अंत तक यह संख्या 7760 तक पहुंच गई थी। इस साल जून में 2 मामले सामने आए हैं, जबकि मई में 10, अप्रैल में 19, मार्च में 34, फरवरी में 13 और जनवरी में 20 की पुष्टि हुई थी। इस साल अभी तक मलेरिया के 39 मामले आ चुके हैं, जिसमें से 9 मामले जून महीने में आए हैं। 10 जून तक के आंकडे के अनुसार लगभग रोजाना मलेरिया का एक मामला सामने आ रहा है। पिछले साल इन दिनों तक मलेरिया के कुल 26 मामले आए थे, जिनकी संख्या साल के अंत तक 454 पहुंच गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here