माथे के इस प्वाइंट को केवल 45 सेकंड के लिए दबाएं और फिर देखे जादू !

0
218

आज के जमाने में बहुत से लोग ऐसे है, जो केवल दवाईयों पर जीते है. इसकी सबसे बड़ी वजह लोगो का गलत खान पान और कम मेहनत करना है. वैसे यदि दवाईयों की जगह योगा और एक्यूप्रेशर का इस्तेमाल किया जाएँ तो यक़ीनन आप हर बीमारी से सुरक्षित रहेंगे. वही सर्जरी से होने वाले इलाज की बजाय अगर एक्यूप्रेशर की मदद से बिना दर्द वाला इलाज करवाया जाएँ तो ये आपके स्वास्थ्य के लिए भी ज्यादा अच्छा रहेगा.

बरहलाल एक्यूप्रेशर का न कोई साइड इफ़ेक्ट होता है और न ही इसमें कोई परेशानी झेलनी पड़ती है. हालांकि एक्यूप्रेशर से होने वाले इलाज वक्त जरूर लेते है, पर साथ ही अपना अच्छा असर भी दिखाते है. जी हां ये इलाज सर्जरी की तरह जल्दी अपना असर नहीं दिखा पाते. ऐसे में हर रोगी को एक्यूप्रेशर के इलाज के दौरान धैर्य रखना चाहिए. वही अगर आप इस इलाज को जीवन भर के लिए अपना ले तो आप हमेशा के लिए बीमारियों से सुरक्षित हो जायेंगे.

इसलिए आज हम आपको एक्यूप्रेशर का एक ऐसा मशहूर इलाज बताने वाले है, जो आपके बेहद काम आएगा. इसके इलावा इस इलाज के बारे में जानने के बाद आप यक़ीनन मन ही मन में हमें शुक्रिया कहेगे. वैसे भी आज कल तनाव के कारण हर कोई परेशान है. यहाँ तक कि स्कूल जाने वाला छोटा सा बच्चा भी आज कल चिंता में रहता है. ऐसे में इस तनाव को कम करने के लिए हम आपको एक तरीका बता रहे है.

गौरतलब है कि इस इलाज के लिए सबसे पहले आपको अपनी तर्जनी ऊँगली को अपनी भौहों यानि आईब्रोस के बीचोबीच रखना है. इसके बाद इस प्वॉइंट को कम से कम 45 सेकंड तक मसलना है. फिर हल्की सी मसाज करनी है. मगर इस बात का ध्यान रखे कि जोर से इस प्वॉइंट को न दबाएं. बता दे कि इस प्वॉइंट को दबाने से शरीर का ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है. दरअसल माथे के इस प्वॉइंट पर ही वो मासपेशिया होती है, जो हमारे तनाव वाले सेंस से जुडी होती है. ऐसे में इन्हे मलने से तनाव से मुक्ति मिलती है.

इसलिए यदि आप रोज सुबह और शाम केवल एक मिनट निकाल कर ये कार्य करेंगे, तो आप हमेशा तनाव मुक्त रहेंगे. इसके इलावा तनाव से जुडी कई बीमारियों जैसे नींद की कमी, अधिक गुस्सा आना, अचानक मूड का खराब हो जाना आदि से भी आप बचे रहेंगे. तो बिना सोचे आज ही ये कार्य शुरू कीजिये और तनाव को हमेशा के लिए अपनी जिंदगी से बाहर निकाल दीजिये.

नोट : इस आर्टिकल में दी गई जानकारियां रिसर्च पर आधारित हैं । इन्‍हें लेकर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूरी तरह सत्‍य और सटीक हैं, इन्‍हें आजमाने और अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।