ब्रेस्टफीडिंग से होता है मां की सेहत में सुधार!

0
45

-हाल ही में आई रिसर्च में किया खुलासा | नई दिल्ली । ब्रेस्ट फीडिंग करवाने से मां की सेहत में भी सुधार आता है। जी हां, हाल ही में आई रिसर्च कुछ यही कहती है। रिसर्च के मुताबिक, जिन महिलाओं की डिलीवरी ऑपरेशन के जरिए होती है अगर वे दो महीने से ज्यादा समय तक अपने शिशु को ब्रेस्टफीडिंग करवाती हैं तो सर्जरी से होने वाला दर्द तीन गुना तक कम हो सकता है। दरअसल, सर्जरी से डिलीवरी के कारण कई महिलाओं को ऑपरेशन का दर्द तीन महीने या इससे अधिक समय तक झेलना पड़ता है। लेकिन जो महिलाएं नियमित रूप से बच्चे को स्तनपान करवाती हैं उनके दर्द में कुछ हद तक कमी आती है। शोधकर्ताओं के मुताबिक, ये अपने आप में नई रिसर्च है। ये तो अब तक हर कोई जानता था कि मां का दूध बच्चे के लिए न्यूट्रिशंस से भरपूर है लेकिन मां को भी इसका फायदा होता है इससे लोग अभी तक अंजान थे। स्पेन में हॉस्पिटल यूनिवर्सितारियो न्यूसत्रा सेनोरा डी वाल्मे की डॉक्टर कार्मेन एलिसिया वर्गास बेरेनजेनो का कहना है कि ये रिसर्च के शुरूआती नतीजे हैं। अगर ऐसा सचमुच हुआ तो महिलाओं के लिए बच्चे को ब्रेस्टफीडिंग करवाना और भी जरूरी हो जाएगा। जेनेवा में आयोजित सालाना कार्यक्रम ‘यूरोएनिस्थीसिया कांग्रेस 2017′ में इस रिसर्च को प्रस्तुत किया गया था।