बच्चे के सिक्का निगल जाने पर क्या करें

0
108

बच्चे बचपन में कुछ भी मिल जाने पर उसे मुंह में डालने की आदत होती है उनकी ये आदत हानिकारक भी हो सकती है। बच्चे कई बार सिक्के मिलने पर भी वह उसे मुंह में डालकर निगल जाते हैं जिसे सही समय पर निकालना जरुरी होता है।

नवजात शिशु से बड़े होने तक बच्चा कई चरणों से होकर जाता है। वह कई चीजों का अनुभव करने की कोशिश करता है। वह जमीन पर घुटनों के बल चलता है, मिट्टी खाने की कोशिश करता है, कपड़ों से खेलना जैसी कई चीजें करता है। माता-पिता भी बच्चे की इन हरकतों को देखकर खुश होते हैं। लेकिन इनमें से कुछ चीजें बच्चे के लिए हानिकारक होती हैं जिनके बारे में उन्हें खुद पता नहीं होता है। आपने ज्यादातर देखा होगा कि बच्चे को कोई भी चीज मिलने पर उसे वह मुंह में डाल लेते हैं। जो उनके लिए खतरनाक होती हैं। ठीक उसी तरह बच्चे सिक्के को हाथ में लेकर मुंह में डालने की कोशिश करते रहते हैं। अगर बच्चा सिक्के को मुंह में डाल ले तो उसके लिए कुछ तुरंत इलाज भी कर सकते हैं।

मुंह में सिक्का डालने के लक्षण: जब बच्चा किसी भी सिक्के को निगल लेते हैं तो उन्हें सांस लेने या कुछ भी निगलने में समस्या होने लगती है। इसके साथ ही मुंह से अत्यधिक मात्रा में लार बाहर आने लगती है। इस बात को बच्चे बहुत देर तक रोकर संकेत देता है। सिक्का निगल जाने की वजह से गर्दन चोक हो जाती है साथ ही सीने में दर्द होने लगता है। साथ ही बच्चे को खांसी और उल्टी भी हो सकती है।

क्या करें: सिक्के को मुंह से बाहर निकालने के लिए बच्चे की पीठ पर धीरे-धीरे पैट करें ताकि बच्चा उल्टी कर सके। इसके साथ ही बच्चे को कुछ खिलाएं ताकि सिक्का पेट में जा सके। खाना खिलाते समय बच्चे को पानी भी पिलाएं।

सिक्के को निगल जाने के बाद यह पाचन तंत्र में फंस जाता है। जिसे मल की सहायता से बाहर आने में 2-3 दिन लग जाते हैं। इस दौरान बच्चे को केला खिलाएं ताकि फूड का मूवमेंट बढ़ सके। लेकिन अगर 48 घंटे के अंदर सिक्का शरीर से बाहर ना आए तो तुरंत डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। अगर बच्चे को सिक्का निगल जाने के बाद कोई समस्या ना हो तो भी डॉक्टर को दिखाना जरुरी होता है। इसके लिए खुद से दवाई ना करें। अगर तबीयत ज्यादा खराब हो तो तुरंत डॉक्टर के पास चले जाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here