पासासन योग की विधि

0
54

हम सभी इस बात से भली भांति परिचित है की योग से शरीर को कई लाभ मिलते है| इसे करने से ना केवल शरीर के रोंग दूर होते है बल्कि इससे शरीर को ताकत भी मिलती है| जिससे छोटे मोटे दर्द और परेशानी आपको परेशान ना करे|

कुछ लोग शरीर से बहुत कमजोर होते है जिसके कारण रोजमर्रा के दर्द जैसे की पीठ दर्द, पेट दर्द आदि से उनकी दिनचर्या प्रभावित होती है| वही कुछ लडकियों को मासिक धर्म में भी बहुत तकलीफ होती है| व्यस्तता के चलते लोग इस दर्द से बचने के लिए रोंग निवारक दवाईया लेते है|

किन्तु बार बार रोंग निवारक दवाइयों का सेवन करने से शरीर पर उल्टा प्रभाव होता है| इसलिए बेहतर होगा की हम ऐसे व्यायाम करे, जिससे ना केवल आपका शरीर मजबूत होगा बल्कि आपको इससे आपको शरीर के दर्द से भी मुक्ति मिलेगी| रोगों से लड़ने के लिए योग से बेहतर कुछ और हो ही नहीं सकता|

शरीर के कई तरह के दर्द से निजात दिलाने के लिए पासासन योग आपकी मदद कर सकता है| इस पोस को Noose Pose भी कहते है| यह आसन करना थोडा सा मुश्किल जरुर है| किन्तु लगातार करते रहने से आप इसे करने में समर्थ हो जायेंगे| आइये जानते है

पासासन योग की विधि:

जैसा की हम जानते है किसी भी योग मुद्रा को करने के लिए साफ़ समतल जगह का चुनाव करना होता है| पासासन को करने के लिए भी ऐसा ही करे| इसके पश्चात ताड़ासन वाली मुद्रा में सीधे खड़े हो जायें, हाथो का ऊपर भी रख सकते है और निचे भी। फिर चित्र में जैसा दिखाया गया है उस अनुसार निचे बैठ जाये|

इस दौरान आपको अपने तलवों को जमीन पर स्थिर ही रखना है जबकि आपके घुटने मुड़े हुए होंगे| इसके पश्चात आपके उपरी शरीर को घुटनों की मदद से छूने की कोशिश करे। अपने हाथो को कोहनियों की और से मोड़कर पीछे की तरफ ले जाये। दोनों हाथो की हथेलियों से एक दुसरे को पकड़ ले|

अब आपको ऊपर की और देख्जना है, जैसा की चित्र में दिखाया गया है| इसके बाद 4 से 4 लम्बी साँसे ले। कुछ सेकंड्स इसी स्थिथि में रहने के बाद सामान्य अवस्था में आ जाये| फिर उपरोक्त क्रिया दूसरी और से भी दोहराए|

पासासन के लाभ

  • साइटिका की समस्या में लाभ मिलता है|
  • पाचन सुधारता है तथा शरीर से फालतू पधार्थ हटा देता है|
  • इससे आपके शरीर के अंगो की अच्छी मालिश होती है|
  • इसे अस्थमा के लक्षण नियंत्रित रहते है|
    महिलाओ को मासिक धर्म में होने वाली समस्याओ से निजात मिलती है|
  • पासासन से पीठ दर्द, कंधे का दर्द और गर्दन का दर्द से छुटकारा मिलता है|
  • यह कब्ज तथा अपचन की समस्या को ठीक करता है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here