पपीते के बीज, पपीते से हैं अधिक गुणकारी, जानें दंग करने वाले फायदे

0
63

पपीते के लाभ तो सभी जानते हैं, लेकिन आमतौर पर हम उन बीजों के स्वास्थ्य संबंधी फायदे नहीं जानते, जिन्हें हम पपीता काटने के बाद बाहर फेंक देते हैं। पपीते का बीज हमारी सेहत के लिए काफी लाभदायक है बल्कि यूं भी कहें तो गलत न होगा कि पपीते के बीज भी सेहत के लिए उतने ही फायदमंद हैं, जितना कि उसका फल क्योंकि उसमें भी काफी पोषक तत्व होते हैं। आयुर्वेद में पपीते के बीज के बारे में विस्तार से बताया गया है। तो आइए जानते हैं पपीते के बीज के लाभ और यह भी कि इन्हें कैसे खाए।

पपीते के बीज के महत्वपूर्ण फायदे:

  •  लीवर की समस्या से बचने के लिए आप रोजाना एक चम्मच पपीते के बीज खाएं। एक चम्मच पपीते के बीजों के पाउडर पर आधा नींबू का रस मिलाकर दिन में 2 बार लें। लीवर स्वस्थ रहेगा।
  •  तनाव होने पर पपीते के बीज को मिक्सर में पीस लें और उसके बाद इसमें कुछ बूंदें नींबू का रस डालें। इस मिश्रण को पीने से आराम मिलेगा।
  •  पपीते के बीज में बहुत से एंटी-ऑक्सीडेंट तत्व हैं। कैंसर रोगियों के लिए रोजाना एक चम्मच बीज लाभकारी होगा।
  •  पाचन शक्ति की कमजोरी के कारण, अपच की शिकायत तो पपीते के बीज का सेवन आपको लाभ देगा।
  •  दमा की शिकायत है, तो पपीते के बीज का चूर्ण बना कर खाएं। इसको आप तेज धूप में सुखा लें और फिर पीस कर खाएं।
  • पेट में दर्द होने पर, एक चम्मच पपीते के बीजों का पाउडर दिन में तीन बार गुनगुने पानी से लें। आराम मिलेगा।
  •  बवासीर की बीमारी के लिए, पाइल्स पर पपीते के बीजों का पाउडर गुलाब जल में पेस्ट बनाकर लगाएं, पाइल्स ठीक हो जाएंगे। इसी तरह छाछ के साथ एक चम्मच पपीते के बीजों का पाउडर लेने पर भी लाभ होता है।
  • गुनगुने पानी के साथ एक चम्मच पपीते के बीजों का पाउडर लेने से जोड़ों के दर्द में फायदा होता है.
  • पपीते के बीजों का पाउडर गुनगुने पानी के साथ लेने से पेट के कीड़ों की समस्या भी दूर होती है.
  • पपीते के बीजों में एंटीबैक्टीरियल गुण होता है। चोट लगने पर, शहद के साथ लें पर फिर चोट पर लगाएं। लाभ होगा।
  •  बच्चों को पपीते के बीज खिलाने से इनस्टेस्टाईनल पैरासाइट से छुटकारा मिलता है।

कैसे खाएं पपीते के बीज

  •  एक छोटा पपीता चुनें क्योंकि ज्यादातर छोटे पपीतों के बीजों का स्वाद ज्यादा तेज़ नहीं होता जबकि बड़े पपीतों के बीज कटु होते हैं।
  •  जब आप पपीते के बीज के स्वाद को अभ्यस्त हो जायेंगे, आप बड़े पपीते के बीज भी ले सकते हैं।
  •  कुछ बीजों को यूँही साबूत चबाएं। पहले हफ्ते में, एक दिन में सिर्फ एक या दो बीज चबाएं। अगर आप एकदम से बहुत ज्यादा खायेंगे, तो आपके टेस्टबड्स और पाचन तंत्र पर जोर पड़ेगा।
  •  बीजों को खाने की मात्रा को धीरे धीरे बढ़ाएं। दूसरे हफ्ते में, धीरे धीरे उसे प्रतिदिन चौथाई चम्मच, फिर आधा चम्मच, फिर एक पूरा चम्मच खाना शुरू करें।
  •  बीजों को 1 छोटा चम्मच शहद के साथ खाकर देखें, ताकि वह ज्यादा कटु न लगे।
  •  बीजों को पीसकर इस्तेमाल करें। सूखे बीजों को मूसल से कूटकर, बारीक या मोटा पाउडर बनायें। आप चाहें तो ग्राइंडर में भी पीस सकते हैं। ताज़े पीसे हुए पपीते के बीज अधिक लाभ देते हैं।
  •  अगर आप पपीते के बीज नियमित रूप से खाते हैं तो आप उन्हें फ्रिज में रख सकते हैं। फ्रीज़ करके रखने से पपीते के बीजों के पौष्टिक तत्त्व 6 से 12 महीनों तक बने रहते हैं।