निकाले जाने के खौफ में 3 लाख अमेरिकी भारतीय

0
9

वाशिंगटन । अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की वीजा नियमों में सख्ती की घोषणा के बाद से वहां रह रहे 3 लाख से अधिक भारतियों को पर देश से बाहर निकाले जाने का संकट खड़ा हो सकता है। दरअसल डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिका में रह रहे लाखों अवैध अप्रवासियों को देश से निकाले जाने की योजना में छूट के प्रस्ताव को रद्द कर दिया। राष्ट्रपति ट्रंप से इस फैसले से 3 लाख भारतीयों समेत करीब 40 लाख अवैध अप्रवासियों को अमेरिका से बाहर निकाले जाने का खतरा बढ़ गया है। पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 2014 में डेफर्ड एक्शन फॉर पेरेंट्स ऑफ अमेरिकंस एंड लॉफुल पर्मनेंट रेसिडेंट्स यानी डापा नीति के तहत अवैध अप्रवासियों को राहत दी थी।

इस नीति से उन 40 लाख लोगों को राहत दी जानी थी , जो 2010 के पहले से अमेरिका में रह रहे हैं, जिनकी संतानों ने अमेरिका में जन्म लिया और उनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है। अब ऐसे परिवारों पर अमेरिका से निकाले जाने का खतरा है। हालांकि ट्रंप प्रशासन 2012 की ‘डेफर्ड एक्शन फॉर चाइल्डहुड अराइवल्स’ यानी ‘डैका’ नीति को बनाए रखेगा। इसके तहत, अमेरिका में गैर-कानूनी तरीके से प्रवेश करने वाले नाबालिग बच्चों को अस्थाई राहत देगा। उन्हें अमेरिका के स्कूलों में पढ़ाई पूरी करने तक ठहरने की अनुमति मिलेगी। मानवाधिकार संगठनों का कहना है कि नए आदेश से मानवीय संकट पैदा होगा क्योंकि अवैध अप्रवासियों के बच्चे अमेरिका में जन्मे हैं और वे वैध नागरिक हैं। ऐसे में उनके माता-पिता को निकाला गया तो बड़ा मानवीय संकट खड़ा होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here