नए फूड पैकेट्स में लिखना होगा कि कितने पोषक तत्व हैं मौजूद

0
9

नए फूड पैकेट्स में लिखना होगा कि कितने पोषक तत्व हैं मौजूद

नई दिल्ली । अब सभी पैक्ड फूड आइटम्स में स्पष्ट रूप से यह लिखना होगा कि आपके विशेषीकृत आइटम में दैनिक पोषक तत्वों का कितना प्रतिशत मौजूद है। देश के खाद्य नियामक – फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया, इस तरह के दिशा-निर्देशों को लागू करने जा रहा है। इसका मकसद है कि लोगों को पता हो कि वे जिस पैक्ड फूड को खा रहे हैं उससे उन्हें कितना पोषण मिल रहा है। सीईओ पवन अग्रवाल ने कहा कि हम लेबलिंग रेगुलेशन्स की प्रक्रिया को बदलने की प्रक्रिया में हैं। उन्होंने कहा कि शुरुआती दिशा-निर्देश तैयार हैं और शीघ्र ही केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय को इसकी मंजूरी के लिए भेजा जाएगा। हमारे पास दिशा-निर्देश तैयार करने के लिए एक विशेषज्ञ पैनल है, जो इस पर काम कर रहा है। नई लेबलिंग पद्धति से उपभोक्ता को पता चल सकेगा कि उसे सुझाए गए रोजाना पोषक तत्वों जैसे शुगर, फैट, साल्ट या अन्य माइक्रो न्यूट्रिएंट्स चीनी, वसा, नमक या अन्य सूक्ष्म पोषक तत्वों की कितनी मात्रा मौजूद है, जो उस उत्पाद को खाने से पूरी होती है।

रिकमंडेड डाइटेरी अलाउंस (आरडीए) से रोजाना पोषक तत्व का सेवन करने का रिफरेंस मिलता है, जो आयु और लिंग के अनुसार भिन्न होता है। वर्तमान में खाद्य पैकेज में मोटे तौर पर कुल कैलोरी और इसमें शुगर, फैट, साल्ट, कार्बोहाइड्रेट्स आर कुछ अन्य न्यूट्रिएंट्स का उल्लेख होता है। शायद ही किसी में यह लिखा होता है कि एक सा\वग खाने के बाद किसी व्यक्ति की कितनी पोषण जरूरत पूरी होती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here