दुनिया की एक तिहाई आबादी मोटापा के चपेट में

0
60

-भारतीय बच्चे दूसरे स्थान पर -वजन घटाने अपनाएं ये उपाय  | लंदन । दुनिया भर में काफी तादात में लोग मोटापा से पीड़ित हैं और यह डायबिटीज एवं दिल की बीमारियों का प्रमुख वजह बन रहा है। मोटापा महामारी की तरह बढ़ रहा है। ताजा रिपोर्ट में बताया गया है कि दुनिया की एक तिहाई आबादी मोटापे की चपेट में है। 2 अरब से ज्यादा वयस्क और बच्चे मोटापा से संबंधित बीमारियों से पीड़ित हैं। एक ब्रिटिश रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका में बच्चों और युवाओं की 13 फीसदी आबादी मोटापे की चपेट में है। मिŒा में 35 फीसदी वयस्कों का वजन जरूरत से ज्यादा है। कुल 195 देशों में किए गए अध्ययन में सामने आया है कि मोटापे से हार्ट संबंधी बीमारियां सबसे ज्यादा हो रही हैं। बाकी देश से आबादी कम होने के बावजूद अमेरिका में मोटापे के शिकार वयस्क लोगों की संख्या 7.94 करोड़ है।

इसके बाद चीन है, जहां 5.73 करोड़ वयस्क मोटापे से पीड़ित हैं। इस लिहाज से बांग्लादेश और वियतनाम सबसे सुरक्षित है। वहां मोटापे की दर कुल आबादी का करीब 1 फीसदी ही है। हार्वर्ड में सहा. प्रोफेसर गुडर्ज डेनियल के मुताबिक हर साल मोटापे की यह सुनामी बड़ी होती जा रही है और अब तो कम आमदनी वाले देश भी इसकी चपेट में आते जा रहे हैं। पिज्जा, बर्गर जैसे जंक फूड और बदली हुई जीवनशैली देश के बच्चों की सेहत पर भी भारी पड़ रही है। मोटापे के मामले में भारतीय बच्चों का दुनिया में दूसरा स्थान है। चीन में हालात और बदतर है। यहां सर्वाधिक यानी 1.5 करोड़ बच्चे मोटापे की चपेट में हैं। भारत के लिए यह आंकड़ा 1.44 करोड़ है। इसके कारण बहुत कम उम्र में डायबिटीज, रव्तचाप और कोलेस्ट्रॉल की समस्या सामने आ रही है। इसके अलावा हड्डियों और जोड़ों में कमजोरी, आलस्य और आत्म-सम्मान की कमी जैसी मनोवैज्ञानिक समस्याएं भी पैदा हो रही हैं।

अमेरिका में हुए एक अध्ययन में मोटापा घटाने का सबसे आसान तरीका बताने का दावा किया गया है। यह रिपोर्ट कहती है कि यदि आपको अपना वजन घटाना है तो शाकाहारी हो जाइये। वॉशिंगटन में फिजिशियल कमेटी फॉर रिस्पांसिबल मेडिसिन में लीड ऑथर हाना कालेवा का कहना है कि शाकाहारी भोजन से वसा घटाने में मदद मिलती है। सब्जियां, अनाज, फलों और नट्स से प्रभावी ढंग से वजन कम किया जा सकता है। शाकाहारी भोजन को अपनाकर 6.2 किलो वजन कम किया जा सकता है।