दिल की बीमारी से पीड़ितों को अवसाद का भी खतरा

0
7

नई दिल्ली । दिल (हृदय) शरीर का अहम हिस्सा होता है ,इसे स्वस्थ्य रखना बहुत जरूरी है लेकिन शोधकर्ताओं का कहना है कि जंकफूड से परहेज करके अवसाद से बचने के लिए भी दिल का सेहतमंद होना आवश्यक है। ताजा शोध के मुताबिक, छोटी रक्त वाहिनियां खराब आहार की वजह से नष्ट हो जाती हैं। इतना ही नहीं, खराब खाने से दिमाग को प्रभावित करने वाले रसायन बाधित होते हैं और हार्ट डिजीज का खतरा 58फीसदी बढ़ जाता है। शोध में कहा गया है कि जंकफूड को नजरअंदाज कर ना सिर्फ हार्ट को हेल्दी रख सकते हैं बल्कि डिप्रेशन यानी अवसाद से भी बच सकते हैं।डच शोधकर्ता के मुताबिक, क्षतिग्रस्त छोटी रक्त वाहिनियों से अवसाद का खतरा 58प्रतिशत बढ़ जाता है।खराब डायट लेने से बॉडी के माइक्रोवस्कुलर सिस्टम की कोशिकाएं डैमेज होती हैं जिससे हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज होने का खतरा भी बढ़ जाता है।ये वैसल्स बॉडी में ऑक्सीजन का प्रवाह करती है। लेकिन ये डैमेज हो जाती हैं तो शरीर के कई पार्ट्स को सही तरह से ऑक्सीजन नहीं मिल पाती।शोधकर्ताओं का कहना है कि मस्तिष्क का सही से ऑक्सीजन नहीं मिल पाती तो वो ठीक से काम नहीं करता।नतीजन, डिप्रेशन की स्थिति हो सकती है।शोधकर्ता ये भी कहते हैं कि डायबिटीज और हाइपरटेंशन माइक्रोवस्कुलर सर्कुलेशन के दुश्मन है।