ट्रंप-मोदी मुलाकात में कई मुद्दों पर हुई सहमति

0
11

व़ॉशिंगटन (ईएमएस)। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और भारतीय प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी की बहुप्रतीक्षित मुलाकात में द्विपक्षीय आर्थिक सहयोग, नयी भू-राजनीतिक परिस्थिति में मुकाबले की रणनीति, तकनीकी हस्तांतरण और आतंकवाद के विरुद्ध साझा संघर्ष का संकल्प लिया गया।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को महान प्रधानमंत्री बताते हुए कहा कि उनका जीवन अनुकरणीय है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाने के तरीकों पर विचार विमर्श करते हुए आश्वस्त किया कि अमेरिका भारत का विश्वसनीय सहयोगी बना रहेगा। दोनों शीर्ष नेताओं की यह मुलाकात ऐसे समय में हो रही है, जब अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन प्रमुख सैयद सलाहुद्दीन को वैश्विक आतंकवादी घोषित करके पाकिस्तान को एक कड़ा संदेश दे दिया है।

आतंकवाद से मुकाबले पर सहयोग, रक्षा साझेदारी, वैश्विक सहयोग, व्यापार और उर्जा आदि मसलों को दोनो शीर्ष नेताओं ने देर तक विचार विमर्श किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करने के लिए डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलेनिया व्हाइट हाउस के साउथ पोर्टको तक आए। मेजबान ट्रंप और उनकी पत्नी ने नरेंद्र मोदी का गर्मजोशी से स्वागत किया। व्हाइट हाउस में प्रवेश करने के पहले उन्होंने औपचारिक रूप से एक दूसरे का हालचाल पूछा।

बातचीत के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का स्वागत करना उनके लिए सम्मान की बात है। उन्होंने मोदी को अमेरिका का सच्चा मित्र बताते हुए कहा कि उनके नेतृत्व में भारत का तीक्र विकास हुआ है। वह ‘महान और अनुकरणीय प्रधानमंत्री’ हैं। मैं उनके साथ बात करता रहा हूं और उनके बारे में पढ़ता रहा हूं। वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। ट्रंप ने कहा, आर्थिक रूप से और कई अन्य मायनों में भारत अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। मैं इसके लिए उन्हें बधाई देना चाहूंगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गर्मजोशी भरे स्वागत के लिए डोनाल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी के प्रति आभार जताया।
मोदी ने कहा मेरा स्वागत भारत के 125 करोड़ नागरिकों का स्वागत है, जो अमेरिका को एक विश्वसनीय सहयोगी के रुप में देखते हैं। मैं इसके लिए राष्ट्रपति और उनकी पत्नी के प्रति दिल से आभार प्रकट करता हूँ। उन्होंने कहा, ‘ट्रंप भारत की प्रगति और आथर्कि तरक्की पर लगातार ध्यान देते रहे हैं।’ मुलाकात के बाद मोदी के लिए एक कामकाजी रात्रिभोज का आयोजन भी किया गया है। अमेरिकी प्रशासन ने पहली बार किसी विदेशी मेहमान के सम्मान में ऐसा आयोजन किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुलाकात से कुछ घंटे पहले अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने हिजबुल मुजाहिदीन के सरगना सैयद सलाहुद्दीन को वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया। अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद के खिलाफ एक कड़ा संदेश देते हुए कहा कि इससे भारत प्रभावित हो रहा है। उल्लेखनीय है कि बैठक से पहले मोदी ने कहा था कि भारत-अमेरिका के रणनीतिक संबंध तर्क पर आधारित हैं। आतंकवाद, कट्टरपंथी विचारधारा और गैर पारंपरिक खतरों से दुनिया की रक्षा करने में दोनों देशों का हित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here