ज्यादा चाय बच्चों के लिए हानिकारक

0
22

हमारे यहां करीब-करीब सभी घरों में दिन की शुरूआत चाय से पीने से होती है। ऐसा माना जाता है कि चाय पीने से पाचन क्रिया अच्छी रहती है, रोग प्रतिरोधक क्षमता दुरुस्त रहती है और कमजोरी दूर होती है। इस बात में कोई संदेह नहीं है कि चाय पीने के बहुत से फायदे हैं लेकिन एक बच्चे और वयस्क पर चाय के प्रभाव अलग-अलग प्रभाव होते हैं। कई घरों में लोग चाय में दूध की मात्रा ये सोचकर बढ़ा देते हैं कि इसी बहाने से बच्चा दूध पी लेगा। लेकिन ऐसा सोचना गलत है।

हम सभी के घरों में चाय पीना बहुत सामान्य बात है। लेकिन ये बात जान लेना बहुत जरूरी है कि एक बच्चे और एक वयस्क पर चाय का असर अलग-अलग होता है। अगर आपका बच्चा बहुत अधिक चाय पीता है तो इसका असर उसके मस्तिष्क, मांसपेशियों और नर्वस सिस्टम पर भी पड़ सकता है। इसके साथ ही बहुत अधिक चाय पीने का असर शारीरिक विकास पर भी पड़ता है। बहुत अधिक चाय पीने वाले बच्चों को हो ये परेशानियां सकती हैं। इससे उनकी हड्डियां कमजोर हो सकती हैं। इसके अलावा हड्डियों खासतौर पर पैरों में दर्द की शिकायत हो सकती हैं। उनके व्यवहार में बदलाव आ सकता है। इसके अलावा चाय के सेवन से मांसपेशियां कमजोर हो सकती हैं।