घर-परिवार पर शनि कृपा होना शुभ 

0
533

प्राचीन काल से शनिवार के दिन को लेकर बहुत सारी लोक मान्यताएं हैं। इस पर लोग शनि के कोप के भय से आंख मूंदकर विश्वास करते हैं। उनको डर रहता है कि कहीं शनि नाराज न हो जायें। बड़े-बुजुर्गों के कहे अनुसार, हर उस बात पर अमल किया जाता है, जो शनि से संबंधित होती है। ज्योतिष के अनुसार, घर-परिवार पर शनि कृपा होना शुभ है लेकिन शनि का वास अशुभता का संचार करता है। विद्वान मानते हैं की घर के कबाड़ पर शनि का अधिपत्य स्थापित है इसलिए शनिवार के दिन इसे घर से बाहर कर दें।

ज्योतिषशास्त्र पर आधारित ग्रंथ जातक परिजात में कहा गया है, शनिवार को घर का कबाड़ बेचने से तनाव, क्लेश और अस्वस्थता समाप्त होती है। मान्यता है शनि कबाड़, बेकार सामान और पुरानी वस्तुओं के कारक ग्रह हैं। जिनकी कुंडली में शनि पीड़ा का योग चल रहा हो, उन्हें अपने घर से कबाड़ शनिवार के दिन जरूर बाहर कर देना चाहिए। ऐसा करने से घर में चोरी और एक्सीडेंट से भी सुरक्षा होती है।

शनिवार के दिन सुबह पुराने सफेद काले कपड़े, पुराने स्टील के बर्तन दान करने से तथा पुरानी लकड़ी का फर्निचर दान करने से जीवन की बाधाएं दूर होती हैं। शनिवार की शाम को बंद पड़ी हुई घड़िया, जंग लगा लोहे का सामान अथवा पुराने नाले अथवा भुरे कपड़े किसी सफाई कर्मचारी को दान करने से तंत्र-मंत्र से मुक्ति मिलती है।

ध्यान रखें- शनिवार को सुबह-सुबह सारे घर की अच्छे से सफाई करें। कोई भी कोना छुटना नहीं चाहिए। घर की छत पर कबाड़ और बेकार का सामान इकट्ठा न करें।

बिजली के खराब उपकरणों को ठीक करवाएं या कबाड़ में दे दें।