खरीददारी करते समय फिजूलखर्ची से बचे

0
9

नई दिल्ली । आज के दौर में यदि बाजार में शॉपिंग करने जा रहें हैं तो पहले महत्वपूर्ण सामानों की सूची तैयार कर लेनी चाहिए। कई बार देखा गया है कि आपके पास ढेरों कपड़े हैं, जिन्हें आप पहनते भी नहीं है, लेकिन नए कपड़ों को खरीददारी कर लेते हैं। बाजार या मॉल से गुजरने के दौरान चीजों को देखकर उसे खरीदने के लिए आपका मन उतावला हो जाता है। कुछ मिनटों की खुशी के लिए आप काफी पैसे खर्च कर देते हैं और बाद में पछताना पड़ता है। इन सभी बातों का जवाब हां है, तो आपको अपनी इस आदत को बदल सकते हैं। आवेग या उतावलेपन में आकर की गई खरीदारी के लिए कोई तर्प तो नहीं होता है, लेकिन अगर आप इन बातों को अपनाएंगे, तो इससे बच जरूर सकते हैं। इससे न सिर्फ आपकी वित्तीय स्थिति बेहतर होगी, बल्कि आप घर पर अनावश्यक चीजों का ढेर लगाने से भी बच सकेंगे। वेतन मिलने के बाद किराए, पेट्रोल और किराने का सामान खरीदने के लिए एक हिस्सा अलग कर लें। कुछ रकम को उस खाते में डाल दें, जिसका डेबिट कार्ड आपके पास नहीं हो। अपनी बचत को ऐसी जगह निवेश करें, जहां से आप आवेग में आकर उसे निकाल नहीं सकें। इस तरह जब आपके पास पैसे नहीं बचेंगे, तो आपको आवश्यक और बेकार के खर्चों के बीच चयन करना होगा। लिहाजा, आप हमेशा ही जरूरी काम के लिए खर्च करेंगे। खरीदारी करने से पहले शॉपिंग की सूची बना लें।

इससे गैरजरूरी चीजों को खरीदने के पहले ही आपको पता चल जाएगा कि किन चीजों के बिना ही आपका काम हो जाएगा। भावनाओं में बहकर खरीद करने में व्रेडिट कार्ड की बड़ी भूमिका है। यदि हो सके, तो व्रेडिट कार्ड को ले ही नहीं। यदि आपके पास पहले से ही एक है, तो इसे तोड़ दें। लेकिन यदि आपको लगता है कि आपात स्थितियों के लिए कार्ड रखना जरूरी है, तो इसे सुरक्षित रखने के लिए घर के किसी जिम्मेदार व्यव्ति को दे दें। ऐसे में जब भी जोश में आकर खरीदारी करना चाहेंगे, तो पैसे हाथ में नहीं होने पर आप ऐसा नहीं कर सकेंगे। शॉपिंग करने के लिए जाने के दौरान अपने किसी भरोसेमंद दोस्त को साथ में रखें क्योंकि वह जानता है कि किन चीजों को देखकर आप खुद को खरीदारी करने से नहीं रोक पाते हैं। ऐसे में वह आपको उन चीजों को खरीदने में मदद करेगा, जिनकी वाकई में आपको जरूरत होगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here