क्या आपके भी सिर में दर्द रहता है, जानिये ब्रेन ट्यूमर के लक्षण, कारण और उपचार

0
136

ब्रेन ट्यूमर दिमाग में होने वाली एक तरह की गांठ है। जिसे ब्रेन ट्यूमर, मस्तिष्क गिल्टी या ब्रेन कैंसर कहा जाता है। बे्रन कोशिकाएं संक्रमित होकर विषाक्त रूप में गांठ बनकर धीरे-धीरे आकार विकृत असामान्य वृद्धि होती रहती है। ट्यूमर लक्षण महसूस होने पर Medical Diagnosis अवश्य करवायें। ब्रेन ट्यूमर कोई भयानक समस्या नहीं। परन्तु आरम्भ में ट्यूमर लक्षण दिखने पर तुरन्त उपचार करवाना जरूरी है।

ब्रेन ट्यूमर की जांच  ट्यूमर लक्षण महसूस होने पर न्यूरोलाॅजिक से ब्रेन ट्यूमर की सही स्थिति का पता आसानी से चल जाता है। जाचं द्वारा व्यक्ति मस्तिष्क में कोशिकाओं नसों के हलचल गांठ बनने की स्थिति आकार पता चल जाता है। जिससे शुरूआती ट्यूमर इलाज आसान हो जाता है।

पहली: शुरूआती ब्रेन ट्यूमर सामान्य आकार में होता है। जिसमें व्यक्ति आसानी से ब्रेन में होने वाली हलचल लक्षण से ट्यमर का पता चल जाता है। शुरूआती ब्रेन ट्यूमर को बिना सर्जरी के लेजर टेक्नोजी से ठीक किया जा सकता है। इस विधि का उपयोग ट्यूमर घटाने और ट्यूमर जड़ से नष्ट करने के लिए किया जाता है।

दूसरी: मध्य ट्यूमर काफी तीब्र पीड़ादायक होता है। व्यक्ति कुछ समय अंतराल में ही असाय महसूस करता है। जिसे रेडिएशन थेरेपी से रिमूव किया जा सकता है। X-Rays, Gamma Rays विधि से कैंसर सेल्स को नष्ट किया जाता है। जो कि आम भाषा में Radiation Waves विधि हैं।

तीसरी: जब ट्यूमर आकार में बड़ा एक फोड़ा गांठ कैंसर रूप ले लेता है। जिससे सिर विकृत हो जाता है। ट्यूमर विकराल रूप बाहर की तरफ दिखने लगता है। यह ब्रेन ट्यूमर मरीज के लिए नाजुक स्थिति होती है। इस स्थिति में सर्जरी, रेडिएशन थेरेपी, कीमोथैरेपी से ही रिमूव किया जा सकता है। यह प्रक्रिया तीन चरणों महीनों के अन्तराल में ट्यूमर की स्थिति संक्रमण को देखकर किया जाता है।

ब्रेन ट्यूमर के लक्षण 

  • सिरदर्द रहना
  • रात को सरदर्द तीब्र होना
  • सिर के एक हिस्से में तीब्र दर्द होना
  • झुकने और लेटने पर मस्तिष्क में तीब्र पीड़ा
  • बोलने और शब्द सुनने समझने में परेशानी
  • याददाश्त कमजोर होना
  • आंखों से आंसू आना
  • आंखों में सूजन
  • चिड़चिड़ापन होना
  • गले में जकड़न
  • जी मचलना
  • लगातार नींद आना
  • डर भय महसूस होना
  • चेहरे का एक हिस्सा कमजोर लगना

ब्रेन ट्यूमर के कारण 

  • सिर पर अन्दुरूनी चोट
  • दूषित वायु और दूषित पानी
  • तीब्र दुर्गंध गैस
  • दिमागी बुखार देर तक रहना
  • मस्तिष्क संक्रमित
  • साइनस संक्रामण

ब्रेन ट्यूमर लक्षण महसूस होने पर तुरन्त जांच करवायें। समय पर मस्तिष्क जांच उपचार ब्रेन ट्यूमर को विकराल स्थिति से आसानी से बचा जा सकता है।

ब्रेन ट्यूमर उपचार   ब्रेन ट्यूमर उपचार सर्जरी, रेडिएशन थेरेपी और कीमोथेरेपी के माध्यम से सफल तरीके से रिमूव किया जा सकता है। अलग-अलग उपचार ट्यूमर की स्थिति, कैंसर संक्रमण, ब्रेन कोशिकाओं ट्यूमर मेलिगेन्ट, बिनाइन स्थिति आकार प्रकार जांच के बाद द्वारा परखकर किया जाता है। कई बार ट्यूमर ब्रेन के साथ अन्य शरीर अंगों में भी हो ट्यूमर कोशिकाऐं सक्रीय होती हैं।

ट्यूमर सर्जरी  ग्रेड-1 स्थिति में ट्यूमर को सर्जरी से निकाला जा सकता है। ट्यूमर सिर विकृत आकार को सर्जरी माध्यम से कम किया जाता है। अकसर कई बार ट्यूमर सही तरह से रिमूव नहीं होता। सर्जरी से केवल ट्यूमर आकार छोटा हो पाता है। ट्यूमर सर्जरी 2-3 चरणों में की जाती है।

ट्यूमर रेडिएशन थेरेपी  अकसर ट्यूमर विकृत विकराल होने पर सर्जरी माध्यम से पूर्ण रूप से रिमूव करना असम्भव हो जाता है। कई संक्रमित ट्यूमर कोशिकाऐं अंश सर्जरी से रह जाते हैं। ऐसी स्थिति में रेडिएशन थैरेपी सफल इलाज है। रेडिएशन थेरेपी का उपयोग अधिकत्तर ब्रेन ट्यमर कैंसर, लीवर ट्यूमर, ब्रेस्ट कैंसर ट्यूमर घटाने और ट्यूमर रिमूव करने के लिए किया जाता है। जिसमें लेजर रेडिएशन, गामा रेज से उपचार किया जाता है।

ट्यूमर कीमोथेरेपी   ट्यूमर कैंसर रूप बनने पर कीमोथेरेपी माध्यम से इन्ट्रावेन्स, इन्फ्यूजन विधि द्वारा ट्यूमर कैंसर सेल नष्ट करने के लिए किया जाता है। इस प्रक्रिया में कीमोथेरेपी कैंसर रोधी दवाईयां मुंह के माध्यम से दी जाती है। यह नाजुक स्थिति होती है। अकसर ट्यूमर अधिक समय तक रहने पर विकृत होकर कैंसर रूप ले लेता है।

नोट : इस आर्टिकल में दी गई जानकारियां रिसर्च पर आधारित हैं । इन्‍हें लेकर हम यह दावा नहीं करते कि ये पूरी तरह सत्‍य और सटीक हैं, इन्‍हें आजमाने और अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here