किडनी में पथरी होने से बचा सकते हैं ये 4 हेल्थ टिप्स, जानें कैसे

0
57

किडनी में पथरी का होना बड़ा कष्टकारी अनुभव होता है। इसके साथ सबसे बुरी बात ये है कि यह एक बार नहीं होता, बल्कि कई बार इसके होने की संभावना होती है। किडनी में पथरी के होने की समस्या एक बार होने के बाद जब अगली बार होती है तब उसका आकार पहले की तुलना में 50 प्रतिशत बढ़ जाता है। ऐसे में किडनी में पथरी को बनने से रोकने के लिए हमें अपनी आदतों में कुछ बदलाव करना बेहद जरूरी होता है। आज हम आपको ऐसे ही कुछ टिप्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिनका इस्तेमाल कर आप किडनी में पथरी के निर्माण को रोक सकते हैं।

कम खाएं नमक – किडनी में पथरी रोकना है तो डाइट में नमक का इस्तेमाल कम करना होगा। ज्यादा मात्रा में सोडियम लेने पर यूरीन में कैल्शियम की मात्रा बढ़ जाती है, जो बाद में किडनी में पथरी का कारण होती है। बहुत ज्यादा मात्रा में सोडियम का कंजप्शन शरीर में डिहाइड्रेशन का भी कारण बनता है।

संयमित रखें कैल्शियम की मात्रा – शरीर में बहुत कम मात्रा में कैल्शियम की मात्रा ऑक्सलेट का स्तर बढ़ा देता है जो किडनी में पथरी का कारण बनते हैं। इसके लिए आपके शरीर में कैल्शियम की उचित मात्रा का होना बेहद जरूरी है। नट्स, सीड्स, सैल्मन आदि का सेवन करना इसमें आपकी मदद कर सकता है।

एनिमल प्रोटीन से बनाएं दूरी – एनिमल प्रोटीन में पोषक तत्वों की काफी मात्रा में पाई जाती है। एसीडिक नेचर का होने के नाते यह शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को बढ़ाता है, जो किडनी में पथरी को बढ़ाने में मददगार होता है।

पथरी बनाने वाले फूड्स से बचें – गुर्दे की पथरी कई तत्वों के विभिन्न यौगिकों से बनती है। इसे बनाने में जिस कंपाउंड की मुख्य भूमिका होती है उसका नाम है कैल्शियम ऑक्सलेट। ऐसे में शरीर में ऑक्सलेट की आपूर्ति कम करने में ही समझदारी है। इसके लिए चाय, शकरकंद, आलू, पालक, अंगूर, बेरीज आदि के सेवन को लेकर संयम रखना बेहद जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here