काला नमक इन 5 बिमारियों को जड़ से मिटाता है !

0
225

काले नमक को एशिया के कुछ हिस्सों में कई पीढ़ियों से मसाले को रुप में इस्तेमाल किया जाता रहा है.

काले नमक में कई विटामिन प्रचूर मात्रा में पाए जाते हैं. काला नमक हमारे भोजन के स्वाद दोगुना कर देता है. इसके साथ ही यह पेट से संबंधित बीमारियों को दूर करने में मदद करता है.

आइए जानते हैं कि काला नमक सेहत से जुड़ी किन समस्याओं को ज़ड से खत्म करने की ताकत रखता है.

1  जोड़ों का दर्द हो जाता है छुमंतर जोड़ों का दर्द काफी पीड़ादायक होता है. काले नमक का प्रयोग जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने के लिए भी किया जाता है. इसके लिए एक सूती के कपड़े में थोड़ा सा काला नमक लेकर पोटली बना लें और उसे कड़ाही में गर्म करें. फिर उससे जोड़ों की सिंकाई करें. जोड़ों के दर्द से लंबे समय के लिए छुटकारा पाने के लिए इस उपचार का प्रयोग रोजाना दिन में 3 से 4 बार करें.

2  पाचन क्रिया को करता है दुरुस्त काले नमक का सेवन जब पानी के साथ किया जाता है तो इससे पेट की पाचन क्रिया में सुधार होता है. खाने में काले नमक का इस्तेमाल करने से पेट की गैस से छुटकारा मिलता है और हाजमा अच्छा रहता है.

पेट के भीतर यह काला नमक हाइड्रोक्लोरिक एसिड और प्रोटीन को पचाने वाले एन्जाइम को उत्तेजित करने में सहायक होता है. काला नमक का घोल बनाकर नींबू के साथ पीने से पाचन तंत्र मज़बूत होता है और पेट से संबंधित बीमारियां दूर होती हैं.

3  सांसों से जुड़ी तकलीफें होती हैं दूर काला नमक सर्दी, खांसी, दमा और सांसों से जुड़ी एलर्जी की समस्याओं से छुटकारा दिलाता है. काले नमक में मौजूद प्राकृतिक एंटी बैक्टीरियल गुण सांसों की नलिका में होते हुए संक्रमण को ठीक करने की क्षमता रखता है.

गर्म पानी में पर्याप्त मात्रा में काला नमक मिलाकर इसकी भांप लेने से आपको कफ और बलगम से काफी जल्दी छुटकारा मिलता है.

4  मोटापे को कम करने में मददगार काला नमक भोजन का स्वाद बढ़ाने के साथ ही मोटापे को कम करने के लिए भी जाना जाता है. एक गिलास पानी में काला नमक डालकर उसका घोल बनाएं, फिर एक चम्मच नींबू के रस को मिलाएं. प्यास लगने पर दिन में कई बार इसका घोल पिएं.

नियमित रुप से ऐसा करने पर पेट में फैट एकत्रित नहीं होता है. जिससे मोटापा कम होने लगता है और वज़न भी नियंत्रित रहता है.

5  दिल को रखता है सेहतमंद काला नमक रक्त से खराब कोलेस्ट्रोल को कम करता है. खराब कोलेस्ट्रोल के कम होने से शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रोल की मात्रा में इजाफा होता है और इससे रक्त की धमनियां मोटी होने से बचती हैं.

कोलेस्ट्रोल कम होने से दिल का स्वास्थ्य काफी अच्छा हो जाता है. इसके अलावा इस नमक में सामान्य नमक से कम सोडियम होता है, जिससे यह दिल को सेहतमंद बनाए रखने में मदद करता है.

सेहत के लिए फायदेमंद होने के साथ ही काला नमक बालों और त्वचा के स्वास्थ्य के लिए भी एक बेहतर औषधि माना जाता है. इसलिए काले नमक को भोजन में या फिर सलाद में नियमित रुप से इस्तेमाल करना चाहिए.

महत्त्वपूर्ण सुचना: यहाँ दी गई जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हरसम्भव प्रयास किया गया है। यहाँ उपलब्ध सभी लेख पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए है और इसकीनैतिक जि़म्मेदारी www.braahmi.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपनेचिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। आपका चिकित्सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्प नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here