कपिल मिश्रा का खुला खत, भ्रष्टाचार की लड़ाई में जनता का मांगा आशीर्वाद

0
11

नई दिल्ली । दिल्ली सरकार के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने पूर्वी दिल्ली के करावल नगर विधानसभा के लोगों के नाम खुला पत्र लिखा है। पत्र में मिश्रा ने कहा है कि आज जो भी लड़ाई मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ रहा हूं, इसकी शक्ति मुझे आप जैसे मतदाताओं और निवासियों के आशीर्वाद से मिली है। मुझे क्षेत्र की जनता का आशीर्वाद चाहिए, तभी मैं इस लड़ाई को जीत पाऊंगा।

मिश्रा ने पत्र में इस बात का भी जिक्र किया है कि पिछले दो साल में अपने विधानसभा क्षेत्र के लोगों के लिए सबसे अधिक काम किया। मोहल्ला सभा के लिए मिला सबसे ज्यादा फंड इसका उदाहरण है। नए काम करने की शुरुआत की कोशिश इसी विधानसभा से हुई। मैं मानता हूं कि सभी को खुश नहीं किया जा सकता, लेकिन पूरी ईमानदारी से काम कर रहा हूं। यही वजह है कि दो साल में एक रुपये के भ्रष्टाचार का आरोप मुझ पर नहीं लगा। मैं खुद भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठा रहा हूं।

करावल नगर विधानसभा क्षेत्र दिल्ली के सबसे पिछड़े इलाकों में आता है, लिहाजा अपने क्षेत्र की जनता के लिए मुझे बहुत कुछ करना है। जो कमियां रह गई होंगी, उनके लिए मैं क्षमाप्रार्थी हूं। जनता के आशीर्वाद की वजह से ही एमसीडी में सबसे ज्यादा सीटें भी इसी इलाके में मिलीं। आपने हमेशा से जितना प्यार और आशीर्वाद दिया है, सारी जिंदगी सेवा करने पर भी इस कर्ज को नहीं उतार सकता। मिश्रा ने कहा कि कई लोग कहते हैं कि कपिल मिश्रा अचानक क्यों सवाल उठाने लगे। इतने समय से क्यों नहीं बोले। आज अचानक इतने सारे घोटालों के सबूत कहां से आ गए। इसके जवाब में मैं केवल इतना कहना चाहता हूं, ये है कपिल मिश्रा द्वारा अरविंद केजरीवाल के भ्रष्टाचारी शासन पर सर्जिकल स्ट्राइक। सर्जिकल स्ट्राइक अचानक से, जब देश के दुश्मन को संभलने का भी मौका न मिले, उसके मुंह से आवाज तक निकलनी बंद हो जाए, ऐसे ही की जानी चाहिए।

मिश्रा ने आगे लिखा कि अगर मैं अब भी चुप रहता, तो दिल्ली की जनता से आंखें नहीं मिला पाता। मेरे खिलाफ कई षड्यंत्र किए जा रहे हैं। मैं आज भी सच की लड़ाई लड़ रहा हूं।