एशियाई पौधे से होगा एचआईवी का इलाज!

0
15

-पहले आर्थराइटिस का ट्रीटमेंट किया जाता था पौध से | नई दिल्ली । एक पौधे के जरिए एशिया में अब तक आर्थराइटिस का ट्रीटमेंट किया जाता था लेकिन अब इस पौधें में एचआईवी का इलाज करने की क्षमता पाई गई है।वैज्ञानिकों ने इस औषधीय पौधे में एक ऐसा एचआईवी-रोधी यौगिक पाया है जो एचआईवी का इलाज आसानी से कर सकता है। वैज्ञानिकों के अनुसार, इस पौधे में एचआईवी एड्स का इलाज करने वाली दवा एजिडोथिमाइडीन `एटीजेड’ से भी अधिक शव्तिशाली गुण है। इस पौधे का नाम पादप जस्टीसिया है।

इस पौधे से निकलने वाले यौगिक पेटेंटीफ्लोरीन ए में एचआईवी वायरस को नष्ट करने के गुण हैं। अमेरिका के शिकागो में यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनोइस के प्रोफेसर डोएल सोएजार्टो ने लगभग 10 साल पहले वियतनाम के हनोई में सीयूसी फुआंग नेशनल पार्प में पौधे की पत्तियों, तनों और जड़ों से अर्प निकाला था। शोधकर्ताओं ने एचआईवी, टीबी, मलेरिया और कैंसर के विरूद्ध नई दवाओं की खोज करने के अपने प्रयासों के तहत हजारों अन्य पौधों के अर्प का विश्लेषण किया था।