एल्युमीनियम फॉयल में खाना पैक करना कितना सही है, जानें

0
145

ल्युमीनियम फॉयल में खाना पैक करना एल्युमीनियम बेहद जरूरी धातु में से एक है, साथ ही औद्योगिक-मानकों में भी इसके काफी महत्वपूर्ण योगदान है। अलग-अलग तरह से उपयोग होने के चलते एल्युमीनियम मानव-जाति के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। एल्युमीनियम पैकेजिंग-उद्योगों में बहुत ज्यादा उपयोग किया जाता है। एल्युमीनियम खाना पैक करने में दूसरी चीज़ों से कहीं बेहतर साबित भी हुआ है और यही कारण है कि इसका सबसे फूड पैकेजिंग में सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता है। तो चलिए चानते हैं कि फूड पैकेजिंग के लिये एल्युमीनियम धातु क्यों बेहतर है।

लंबे समय तक खाने को पैक किया जा सकता है एल्युमीनियम में पैक किये गये खाद्य-पदार्थों को पानी और मॉश्चर से बचाते हुए लंबे समय तक संरक्षित करने में मददगार होता है। अपने पानी और मॉश्चर को रोकने के कमाल के गुण की वजह से ही एल्युमीनियम खाने को एक काफी समय तक तरो-ताज़ा रखने में भी सक्षम होता है।

ऊष्मा एवं प्रकाश का अवरोधक है एल्युमीनियम  खाने के खराब होने का मुख्य कारण उष्मा या गर्मी होती है, और एल्युमीनियम ऊष्मा एवं प्रकाश अवरोधी होने के अपने गुण के चलते खाद्य-पैकेजिंग में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है। एल्युमीनियम के इस विशेष गुण की वजह से ही यह, खाद्य-पदार्थों के पेकेजिंग के लिये सबसे पसंदीदा चीज़ बन गया है।

कीटाणुओं और जीवाणुओं से बचाव करे  ऊष्मा ही नहीं बल्कि बैक्टीरिया भी खाने की गुणवत्ता को प्रभावित करते हैं और उसके खराब होने कारण बनते हैं। एल्युमीनियम फॉयल भोजन को बैक्टीरिया, हानिकारक जीवाणुओं तथा रोगाणुओं के संपर्क में आने से बचाती है।

खाने की पैकेजिंग करने में बेहद आसान एलुमिनियम का एक कमाल का फायदा यह भी है कि इसमें खाने की पैकेजिंग करना बेहद आसान होता है। बस फटाफट खाने को भोजन को फॉयल में लपेटकर इतना ही चैक करना होता है कि, अन्दर पैक-भोजन टपक या रिस तो नहीं रहा है।

महत्त्वपूर्ण सुचना: यहाँ दी गई जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर
सम्भव प्रयास किया गया है। यहाँ उपलब्ध सभी लेख पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए है और इसकी
नैतिक जि़म्मेदारी www.braahmi.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपनेचिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। आपका चिकित्सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्प नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here