इस तरह बढ़ाएं इम्यून सिस्टम, नहीं होगा डेंगू और चिकनगुनिया

0
227

बदलते मौसम के साथ-साथ ना जाने कौन-कौन से इंफेक्शन आपको घेरे जा रहे हैं. चाहे वो वायरल हो, डेंगू हो या फिर चिकनगुनिया जैसा कोई भी इंफेक्शन. आपको अगर इन इफेक्शंस से बचाना है तो आपको आना होगा योग की शरण में. आप करेंगे नियमित योगाभ्यास अपनी इम्यूनिटी को स्ट्रांग करने के लिए. इससे इंफेक्शंस रहेंगे आपसे कोसों दूर.

योग से यूं बढ़ाएं रोग-प्रतिरोधक क्षमता  सबसे पहले आप करेंगे विरेचन क्रिया का अभ्यास. इस क्रिया में अपने आसन पर खड़े हो जाएं. 90 डिग्री के एंगल पर हाथों को टिका दें. मांइड कंट्रोलिंग नर्व्स पर आपके हाथों का प्रेशर पड़ना चाहिए. इस क्रिया को सभी कर सकते हैं. इसके लाभ ही लाभ हैं. इसके कोई साइड इफेक्ट्स नहीं हैं.

90 डिग्री के एंगल पर हाथों को टिकाने के बाद सांस भरते हुए हाथों को ऊपर की ओर लेकर जाएं. सांस छोड़ते हुए हाथों को वापिस ले आएं. 50 से 100 बार तक इस क्रिया को करें.

इसके बाद पैरों और हाथों को खोलें. गहरा सांस लें और फिर पूरी तरह से सांस छोड़ दें. तीन से चार बार ऐसा करने के बाद हाथों को मिला लें और शरीर को शिथिल छोड़ दें. 50 से 100 का एक राउंड है. आपको कम से कम 5 राउंड करने हैं. इससे ज्यादा भी आप अपनी क्षमता के अनुसार कर सकते हैं.

इसके बाद आप करेंगे शिशुगति आसन. ये इम्यूनिटी को तो स्ट्रांग करेगा ही साथ ही पूरे शरीर को चुस्त-दुरुस्त भी करेगा.

घुटने के बल जमीन पर आ जाएं. हाथ, पंजे और घुटने जमीन पर टिका दें. बच्चे की तरह इस आसन को करें. फिर वज्रासन में बैठ जाएं.

इसके अलावा इम्यूनिटी को स्ट्रांग करने के लिए प्रकृति के साथ समय बिताएं. यानी थोड़ा समय खुले में जाकर हरी-भरी घास में बिताएं.

तुलसी का सेवन नियमित रूप से कीजिए.

महत्त्वपूर्ण सुचना: यहाँ दी गई जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हरसम्भव प्रयास किया गया है। यहाँ उपलब्ध सभी लेख पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए है और इसकीनैतिक जि़म्मेदारीकी www.braahmi.comनहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपनेचिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। आपका चिकित्सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्प नहीं है।