इन 10 लाभदायक खाने की आदतों को अपने जीवन का अंग बनाएँ

0
671

कार्तिक, 30 पेशे से सॉफ्टवेर इंजीनियर है और शौक से फोटोग्राफर। इनका हफ़्ते में 45-50 घंटे का शेड्यूल होता है। इतने व्यस्त रहने के कारण कार्तिक अपने स्वास्थ्य के लिए समय ही नहीं निकाल पाते। कंप्यूटर के सामने लंबे समय तक बैठने और काम के तनाव से कार्तिक अब पीठ दर्द, थकान, और कब्ज़ से पीड़ित है।

ऐसी उम्र में जब व्यक्ति अपने काम में सफलता प्राप्त करना चाहता है, वह अपना स्वास्थ्य बिगाड़ लेता है। ऐसे में अगर व्यक्ति उपयुक्त आहार से सम्बंधित आदतें अपनाये तो वह अपनी सेहत को बहुत हद तक सुधर सकता है। निम्नलिखित कुछ ऐसी ही आदतें हैं जिनसे आप शुरुआत कर सकते हैं |

  1. अपने खाने पर गौर करें
  2. पानी समय पे और उपयुक्त मात्रा में पीयें
  3. हरी सब्ज़ियाँ खायें
  4. उपयुक्त मात्रा में प्रोटीन खायें
  5. खाने को अच्छे से चबाएँ
  6. घर का खाना खायें
  7. नाश्ता कभी न छोड़ें
  8. खाने को अच्छे से पचायें
  9. खाने पर ध्यान दें
  10. फ़ास्ट फूड एवं शीत पेयों से दूर रहें

1 अपने खाने पर गौर करें:

आप फिलहाल ज़्यादा क्या खा रहे हैं? क्या आप ज़्यादा कैलोरीज खाते है पर उपयुक्त व्यायाम नहीं कर पाते? अगर हाँ, तो आपको कुछ ऐसा खाना चाहिए जिसमे कम वसा (Trans fat) हो जो आपका शरीर आराम से पचा सके। आप कुछ मिनट आसान योगाभ्यास करना भी शुरू कर सकते हैं जिससे आप कुछ कैलोरी घटा सकते है।

2 पानी समय पे और उपयुक्त मात्रा में पीयेंं

हमारा शरीर 70% पानी से बना है। इसलिए यह बहुत ज़रूरी है की आप उपयुक्त मात्रा में पानी पीयें। पानी शरीर से गन्दगी निकालने में मदद करता है। मगर  पानी को खाने के बीच में नहीं पीना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से पाचन क्रिया कमज़ोर हो जाती है। खाने के 30 मिनट पहले और 30 मिनट बाद में पानी पी सकते हैं।

3 हरी सब्ज़ियाँ खायें

हरी सब्ज़ियों में प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम और फाइबर प्रचुर मात्रा में होते हैं। इसलिए इनको अपने खाने में ज़रूर शामिल करें। आप अपनी व्यंजन-सूची को बढ़ाने के लिए, आयुर्वेदिक कुकिंग कोर्स भी कर सकते हैं|

4 उपयुक्त मात्रा में प्रोटीन खायें

प्रोटीन शरीर के लिए अत्यावश्यक है। ब्रोकली, सोयाबीन, दाल, और पालक में काफी प्रोटीन होता है। कम वसा वाले डेरी प्रोडक्ट्स में भी उपयुक्त प्रोटीन होता है।  इनको अपने खाने में अवश्य शामिल करें|

5 खाने को अच्छे से चबाएँ

बहुत लोग जल्दी में खाने की वजह से अपने खाने को अच्छे से नहीं चबाते। अच्छे से न चबाया हुआ निवाला पचने में बहुत समय लेता है और पाचन तंत्र को थका देता है। इसलिए खाने को पूरी तरह चबायें।इससे खाना जल्दी और अच्छे से पचेगा|

6 घर का खाना खायें

अधिक बाहर का खाना आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं है। इसलिए घर पे बनाये और खाये। अपनी स्वादानुसार, बेहतर व्यंजन सामग्री के साथ खाने पर खर्च भी कम होगा ।

7 नाश्ता कभी न छोड़ें

कभी भी अपना नाश्ता न छोड़ें। सुबह का नाश्ता पूरे दिन के लिए आपको तैयार करता है। इसलिए निश्चित तौर पे पौष्टिक और भरपेट नाश्ता करें।

8 खाने को अच्छे से पचायें

खाने के बाद थोड़ी देर वज्रासन (Vajrasna) में बैठें। यह पाचन क्रिया में मदद करता है। यह योगासन विशेष रूप से पेट के निचले हिस्से में रक्त परिसंचरण को बढ़ाता है और पाचन प्रक्रिया में सुधार लाता है।

9 खाने पर ध्यान दें

हम अक्सर खाना टी. वी देखते हुए या मोबाइल पर मैसेज करते हुए खाना खाते हैं। खाने पर ध्यान न होने की वजह से हम अक्सर अपनी भूक से अधिक खा लेते है। अगर हम खाने पर ध्यान देते हुए खाये तो उतना ही खाएंगे जितनी हमारे शरीर की आवश्यकता है। तो अगली बार जब आप खाना खाने बैठे तो रिमोट कण्ट्रोल(टी. वी) और मोबाइल को खुद से दूर रखे ।

10 फ़ास्ट फूड एवं शीत पेयों से दूर रहें

हालांकि फ़ास्ट फूड अपने स्वाद कलिका को खुश कर सकते हैं पर आम तौर पर इससे शरीर को काफी नुकसान होता है। यह अस्वास्थ्यकर और ट्रांस फैट (वसा) से भरपूर हो सकते है जो शरीर के लिए घातक है। इसके अलावा, कार्बोनेटेड शीत पेयों (कोल्ड ड्रिंक, सॉफ्ट ड्रिंक) में अति उच्च मात्रा में चीनी होती है जो मोटापा, मधुमेह और दंत क्षय का कारण बन सकती है। इन हानिकारक पेयों के बजाय, छाछ या नींबू पानी अपने आप को ताज़ा करने के लिए सक्षम है।

अच्छी खाने की आदतें आपके व्यक्तित्व में उभार ला सकती है| इसलिए अपना खाना बुद्धिमत्ता से चुने और सर्वोत्तम तरीके से खाये। सात्विक खाना आपके जीवन में अद्भुत परिवर्तन ला सकता है इसीलिए खाने को समझदारी से चुने।