आयुर्वेद के अनुसार कौन से आहार का सेवन एक साथ नहीं करना चाहिए

0
119

खाद्य पदार्थों का सही संयोजन आपके शरीर में पाचन की गुणवत्ता में सुधार करता है और शरीर को सही तरीके से पोषण प्राप्त करने में मदद करता है। अगर आप सही आहार एक साथ नहीं लेते हैं तो इससे पेट से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं।

फूड कॉम्बिनेशन का कॉन्सेप्ट बहुत लोगों के लिए आज भी नया ही है जबकि कुछ लोग इसके बारे में जानते भी नहीं है। हालांकि आयुर्वेद के अनुसार, इस बात की जानकारी होना जरुरी है क्योंकि यह पर्याप्त और संतुलित आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। फूड कॉम्बिनेशन के जरिए हमें पता चलता है कि कौन से आहार एक साथ खाएं जाने पर अच्छे से पच जाते हैं और कौन से नहीं। खाद्य पदार्थों का सही संयोजन आपके शरीर में पाचन की गुणवत्ता में सुधार करता है, शरीर को सही तरीके से पोषण प्राप्त करने में मदद करता है और संपूर्ण स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डालता है। आइए जानते हैं कि कौन से खाद्य पदार्थों का सेवन आपको एक साथ नहीं करना चाहिए।

बर्गर और फ्रायज़: अधिकतर बार हम बाहर खाना खाते वक्त बर्गर और फ्रायज एक साथ ऑर्डर कर लेते हैं बिना ये जानें कि इनका हमारी सेहत पर नकारात्मक प्रभाव हो सकता है। डीप फ्राय होने के कारण बर्गर और फ्रायज़ में मौजूद ट्रांस फैट आपके शरीर में ब्लड शुगर के स्तर को घटा देते हैं जिसके कारण आप थका हुआ महसूस करते हैं।

पिज्जा और सोडा ड्रिंक्स: सामान्य तौर पर लोग पिज्जा के साथ सोडा ड्रिंक्स का सेवन करते हैं। पिज्जा में मौजूद कार्ब्स, प्रोटीन और स्टार्च को पचाने में आपके शरीर को अधिक उर्जा खर्च करनी होती है। इसके अलावा सोडा ड्रिंक्स में होने वाली शुगर पाचन क्रिया को धीमा कर देती हैं जिससे पाचन संबंधी समस्या हो सकती है।

दूध और केला: दूध और केले का सेवन अक्सर लोग एक साथ करना फायदेमंद मानते हैं लेकिन आयुर्वेद के अनुसार इन दोनों खाद्य पदार्थों का एक साथ सेवन आपके शरीर में टॉक्सिन्स का निर्माण करता है। साथ ही यह आपके दिमाग की गति को धीमा कर देता है।

दही और फलों का सेवन: आयुर्वेद की फूड कम्बाइनिंग थ्योरी के अनुसार, किसी भी खट्टे फल का सेवन डेयरी उत्पाद के साथ नहीं करना चाहिए। अगर दही के साथ आप फलों का सेवन करते हैं तो इसके कारण आपको पाचन की समस्या, इंटेस्टाइनल फ्लोरा में बदलाव, टॉक्सिन्स का उत्पादन, साइनस कंजेशन, सर्दी, खाँसी और एलर्जी आदि परेशानियां हो सकती हैं।

बीन्स और पनीर: अगर आप बीन्स (सेम) और पनीर का एक साथ सेवन कर रहे हैं तो बेहतर है कि आप ऐसा ना करें। पनीर में प्रोटीन की उच्च मात्रा होती हैं वहीं बीन्स भी प्रोटीन का अच्छा स्रोत है। प्रोटीन और प्रोटीन एक अच्छा संयोजन नहीं बनाते हैं। इसके कारण आपका पेच इन्हें पचा नहीं पाएगा और इनसे पेट फूलने और गैस की समस्या हो सकती है।