आयरन की कमी के ये लक्षण शरीर में दिखें तो नजर अंदाज हरगिज ना करें

0
225

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सभी पोषक तत्वों की जरूरत होती है। ऐसे में जब शरीर में किसी एक तत्व की भी कमी हो जाए तो सेहत पर बुरा असर पड़ता है। ऐसे ही जब शरीर में हर समय थकावट और सांस लेने में मुश्किल हो तो समझ लें कि शरीर में आयरन की कमी हो गई है। आयरन की कमी की वजह से शरीर में एनीमिया की समस्या हो जाती है। इससे शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं का सही तरीके से उत्पादन नहीं हो पाता और खून की कमी हो जाती है। आयरन की कमी की समस्या पुरूषों की तुलना में महिलाओं में ज्यादा देखने को मिलती है। आइए जानिए शरीर में दिखने वाले कुछ संकेत जिससे आप पता लगा सकते हैं कि शरीर में आयरन की कमी हो गई है।

आयरन की कमी से होती है थकान : शरीर में आयरन की कमी से हीमोग्लोबिन भी कम हो जाता है। रक्त में पाया जाने वाला हीमोग्लोबिन जो हमारे शरीर के सभी हिस्सों तक ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है। इसकी कमी की वजह से शरीर सही तरीके से काम नहीं कर पाता और हर समय थका महसूस करता है। ऐसे में आयरन की कमी का सबसे बड़ा संकेत शरीर में होने वाली थकावट है । और यह थकावट लगातार महसूस होती है और किसी भी काम को करने की शक्ति शरीर में महसूस नही होती है ।

आयरन की कमी से काम पर फोकस नही होता : आयरन की कमी होने से दिमाग पर भी असर पड़ता है जिससे व्यक्ति काम पर सही तरह से फोकस नहीं कर पाता । दिमाग को पोषण भी शरीर में खून से और खून में मौजूद हीमोग्लोबिन से मिलने वाली ऑक्सीजन से मिलता है । जब शरीर में आयरन की कमी होती है तो दिमाग को जरूरी प्राणवायु अर्थात ऑक्सीजन नही मिल पाती है जिस कारण दिमाग कुछ हद तक चेतना शून्य होने लगता है और इन्द्रियों के साथ उसके तालमेल में कमी आने लगती है जिस कारण से भ्रम की अवस्था बनने लगती है और किसी काम पर फोकस नही होता है ।

आयरन की कमी से होती है सांस लेने में तकलीफ : दिल की धड़कन और साँसों की रफ्तार में चार और एक का अनुपात होता है अर्थात जितनी देर में दिल चार बार धड़कता है उतनी देर में फेफड़े एक साँस लेते हैं । आयरन कम होने से शरीर में रक्तचाप कम होने लगता है जिस कारण से साँसें लेने की रफ्तार भी कम होने लगती है जिस कारण से सीढ़ियां चढ़ने या ज्यादा काम करने की वजह से सांस लेने में तकलीफ होने लगती है लेकिन जब बैठे-बैठे भी सांस फूलने लगे तो समझ लें कि शरीर में आयरन की कमी है ।

आयरन की कमी से होता है मांसपेशियों में दर्द : सप्त धातुओं के अध्ययन में समझ आता है कि रक्त दूसरे नम्बर की धातु होती है और रक्त के पाक के द्वारा ही मांसपेशियों का निर्माण और उनको शक्ति मिलने का कम होता है । लेकिन जब खून में आयरन कम होने लगता है और स्वयं रक्त की शक्ति कम होने लगती है जिस कारण से मांसपेशियों में दर्द होने लगता है। ऐसे में अगर कभी शरीर पर चोट लग जाए तो उसे ठीक होने में काफी समय लग जाता है।

आयरन की कमी से उड़ जाती है चेहरे की रंगत : किसी व्यक्ति के चेहरे को देखकर ही पता चल जाता है कि उसकी सेहत अच्छी है या खराब । जब शरीर में खून और खून में आयरन कम होने लगता है तो इसका सबसे ज्यादा प्रभाव देखने में मिलता है चेहरे के निस्तेज होते जाने में । इसके अलावा नाखून, हथेली और आँखों का रंग भी सफेद पड़ने लगता है जबकि स्वस्थ व्यक्ति में यह गुलाबी रहता है । अगर आप को भी अपने चेहरे की रंगत उड़ती हुई महसूस हो या फिर नाखूनों आदि का रंग सफेद पड़ने लगे तो समझ जाइये कि आपके खून में आयरन की कमी होने लगी है । इस दशा में अपने चिकित्सक के पास परामर्श के लिये जरूर जायें ।

शरीर में आयरन की कमी होने के लक्षणों की जानकारी वाला यह लेख आपको अच्छा और लाभकारी लगा हो तो कृपया लाईक और शेयर जरूर कीजियेगा । आपके एक शेयर से ही किसी जरूरतमंद तक सही जानकारी पहुँचती है और हमको भी आपके लिये और बेहतर लेख लिखने की प्रेरणा मिलती है । इस लेख के समबन्ध में आपके कुछ सुझाव हों तो कृपया कमेण्ट के माध्यम से हमको जरूर बतायें ।