आपकी हर बीमारियों का कारण है ये 3 परेशानियां

0
139

चाहे दिल की बीमारी हो,फेफड़े बीमार हो,लीवर की समस्या हो,चाहे हड्डियां ही क्यों नहीं कमजोर हो रही होंया दिन पर दिन अवसाद में घिरते जा रहे हों चाहे कोई भी समस्या हो। फॉर्टिज हॉस्पीटल की सीनियर डाइटीशियन डॉ. सिमरन सैनी कहती हैं कि हर समस्या की जड़ ये 3 परेशानियां हैं। शरीर केवल इन 3 कारणों से बीमार पड़ता है जिस पर शायद ही किसी ने ध्यान दिया हो। जबकि इन 3 कारणों को अगर कोई जान लें और उसे बढ़ने ना दें तो शरीर कभी बीमार नहीं पड़ेगा।
तो इस लेख में दिए गए इन 3 विशेष कारणों के बारे में जानें और हमेशा के लिए बीमारियों से बचे रहें।

आप अपने जिंदगी की सभी परेशानियों और बीमारियों पर गौर करेंगे तो आपको पता चलेगा कि आपकी सभी बीमारियों की जड़ इन तीनों से शुरू हुई थीं। इसमें भी सबसे मुख्य कारण है कब्ज की समस्या।

कब्ज की समस्या कब्ज की समस्या हर तीसरे इंसान को होती है। हर परिवार में किसी ना किसी एक इंसान को तो कब्ज की समस्या जरूर होती है। कब्ज की समस्या इतनी सामान्य है कि इस पर पीकू नाम की फिल्म भी बन चुकी है जिसमें अमिताभ बच्चन को कब्ज की शिकायत थी। इसका लोग कोई इलाज नहीं करते और कोई भी चूर्ण खाकर इसे टाल देते हैं। जबकि यहीं से समस्या शुरू होती है। कब्ज की समस्या बढ़ने से लिवर पर दबाव पड़ता है जिससे लीवर खराब होने और दिल में बैचेनी कि समस्या हो जाती है। इसलिए कब्ज का इलाज करें और जिंदगी भर बीमारियों से दूर रहें।

पेट की गैस पेट की हर बीमारी का कारण है पेट की गैस। ये इतनी सामान्य है कि लोग इसे बीमारी भी नहीं समझते। युवा-वृद्ध हर किसी को सप्ताह में एक बार पेट में गैस बनने की समस्या जरूर होती है। कई बार ये भूखे रहने से भी बन जाती है तो कभी अधिक चाय पीने या गलत खाने-पीने से हो जाती है। इन सामान्य कारणों की वजह से ही लोग पेट में बनने वाली गैस पर ध्यान नहीं देते। जबकि पेट की गैस एक चेतावनी होती है कि आपके पेट में कुछ गड़बड़ी चल रही है जिसे तुरंत सुलझाने की जरूरत है। इसे ही लोग समझते नहीं और सोडा पीकर गैस को कुछ समय के लिए टाल देते हैं। ये टालना ही पेट की कई बीमारियों को जन्म देता है।
नोट- तो अगर आप पेट में बनने वाली गैस को नजरअंदाज करते हैं तो आज ही बंद करें।

हीमोग्लोबिन की कमी हीमोग्लोबिन की कमी बहुत ही सामान्य समस्या है जो महिलाओं में पुरुषों की तुलना में अधिक होती हैं। ये खून में लाल रक्त कण होते हैं। ये एक विशेष तरह का प्रोटीन होता है जो शरीर में ऑक्सीजन के संचरण का काम करता है। ये खून में थक्का जमने में मदद करता है। इसकी कमी से ही महिलाओं को पीरियड में अधिक परेशानी होती है। इसकी कमी से एनीमिया रोग होता है।

इन तीनों में कनेक्शन
फॉर्टिज हॉस्पीटल की सीनियर डाइटीशियन डॉ. सिमरन सैनी कहती हैं कि ये तीनों चीजें खानपान से जुड़ी हैं। आज ज्यादातर लोगों की डाइट सही नहीं है। लोग बाहर का खाना अधिक खाते हैं जिससे शरीर को उचित मात्रा में फाइबर्स नहीं मिलते। जिसके बाद पेट में गैस और कब्ज की समस्या शुरू होती है। फल और हरी सब्जियां नहीं खाने से खून में हीमोग्लोबिन की कमी हो जाती है जिससे एनिमिया होता है। इसका एक ही उपाय है कि अच्छा खानपान रखें औऱ ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं। पेट में गैस बनती है तो कब्ज की समस्या शुरू होती है जिससे पेट साफ नहीं होता और लीवर में दबाव पड़ता है। जिससे शरीर को अधिक ऑक्सीजन की जरूरत होती है और खून शरीर में ऑक्सीजन की सप्लाई करने के लिए अधिक तेजी से संचरण क्रिया करने लगता है जिससे अधिक हीमोग्लोबिन की जरूरत पड़ती है और फिर शुरू होती है हीमोग्लोबिन व खून की कमी की समस्या।

महत्त्वपूर्ण सुचना: यहाँ दी गई जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हरसम्भव प्रयास किया गया है। यहाँ उपलब्ध सभी लेख पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए है और इसकीनैतिक जि़म्मेदारी www.braahmi.com  की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपनेचिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। आपका चिकित्सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्प नहीं है।